स्वस्थ भारत डॉट इन
समाचार

दुर्घटना नहीं यह हत्या है : जोगी

अजीत जोगी
अजीत जोगी

 स्वस्थ भारत अभियान का मानना है कि किसी भी सूरत में दोषियों को छोड़ा नहीं जाना चाहिए। दूसरी बात यह कि बिलासपुर जैसी स्थिति पूरे देश में हैं, स्वास्थ्य के इस गंभीर मसले पर किसी भी तरह की राजनीति नहीं होनी चाहिए। सभी दलों को मिलकर राजनीतिक इच्छा शक्ति के साथ देश की जनता के स्वास्थ्य के लिए कारगर नीति बनानी चाहिए। स्वास्थ्य के क्षेत्र में एक व्यवस्थित निगरानी व्यवस्था बनाने की जरूरत है।संपादक
बिलासपुर। पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने नसबंदी कांड में महिलाओं की मौत को दुर्घटना नहीं हत्या करार दिया है। उन्होंने बताया कि दवा खरीदी में नियमों का पालन नहीं किया गया और एजेंटों के माध्यम से ब्लैक लिस्टेड कंपनी से दवा खरीदी गई है। इस घटना को लेकर सर्किट हाउस में पत्रकारों से चर्चा करते हुए श्री जोगी ने बताया कि सरकार की ओर से जो कार्रवाई हुई है वह पर्याप्त नहीं है। डाक्टर आदि दोषियों पर जो भी कार्रवाई होगा वह नियम, कानून के तहत होगा, किन्तु में जनता ने चुनकर जिन पर विश्वास जताया है, उन्होंने गलती स्वीकार नहीं की है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह द्वारा स्वास्थ्य मंत्री अमर अग्रवाल का यह कहकर बचाव किए जाने पर कि स्वास्थ्य मंत्री थोड़े आपरेशन करने गए थे संबंधी बयान के जवाब में श्री जोगी ने पूर्व प्रधानमंत्री स्व. लालबहादुर शास्त्री एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री स्व. माधवराव सिंधिया का उदाहरण देते हुए कहा कि श्री शास्त्री एवं श्री सिंधिया ने रेलमंत्री व वायुयान मंत्री से नैतिकता के नाम पर इस्तीफा दिया था तो क्या श्री शास्त्री रेल और श्री  सिंधिया वायुयान चला रहे थे। यह तो नैतिक जवाबदेही का सिद्धांत है, जिसके तहत मुख्यमंत्री रमन सिंह और स्वास्थ्य मंत्री अमर अग्रवाल को अपनी गलती स्वीकार कर इस्तीफा दे देना चाहिए। श्री जोगी ने प्रदेश में बड़ा ड्रग रैकेट चलने की बात कहते हुए बताया कि नकली दवाओं की दर्जनों कंपनियां चल रही हैं और ऊपर तक कमीशन पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि महावर कंपनी की फैक्ट्री ही नहीं है और सब तरह की दवा बेच रहा है। पहले महावर कंपनी को ब्लैक लिस्टेड कर दिया था तो एजेंटों के माध्यम से उससे क्यों दवा खरीदा गया। श्री जोगी ने बताया कि दवा मैन्यूफेक्चरर, निर्माणकर्त्ता से ही दवा खरीदने का नियम है तो एजेंटों के माध्यम से क्यों दवा खरीदी की गई। उन्होंने बैगा जनजाति के महिलाओं के नसबंदी आपरेशन पर विरोध भी जताया।
साभारःhttp://www.hellocg.com/
स्वस्थ भारत अभियान  के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए इस लिंक को क्लिक करें- स्वस्थ भारत अभियान

Related posts

बिहारःस्वास्थ्य व्यवस्था का मैला होता आंचल

फार्मासिस्टों का है यह नारा चलो दिल्ली…

Sunil Jha

जनऔषधि परियोजना का आत्मघाती फैसला, देश भर के अधिकारियों में फैला है आक्रोश

swasthadmin

Leave a Comment

swasthbharat.in में आपका स्वागत है। स्वास्थ्य से जुड़ी हुई प्रत्येक खबर, संस्मरण, साहित्य आप हमें प्रेषित कर सकते हैं। Contact Number :- +91- 9891 228 151