स्वस्थ भारत मीडिया

Category : मन की बात

स्वस्थ भारत के इस स्तंभ में देश के बड़े-बड़े लेखकों के विचार को हम प्रमुखता से प्रकाशित करते हैं। देश के ज्यादातर लेखक अपने मन की बात से इसे मजबूत कर रहे हैंं।

चिंतन

कैंसर-मरीज के नाम पर कहीं आपको लूटा तो नहीं जा रहा!

swasthadmin
मैंने कहा कोई 1लाख ऐसे ही तो नहीं दे देगा न जिसे मदत की जरुरत है मैं उसे डायरेक्ट दू तो मुझे ज्यदा ख़ुशी मिलेगी।...
SBA विशेष काम की बातें चिंतन

साहब! एड्स नहीं आंकड़ों का खेल कहिए…

swasthadmin
आज चारों ओर बाजार का दबदबा है। उसने हमारे मनोभाव को इस कदर गुलाम बना लिया है कि हम उसके कहे को नकार नहीं पाते।...
चिंतन चौपाल

…तो हमारे अधिकारी चाहते हैं कि आंकड़ों में एड्स बना रहे !

swasthadmin
इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता की भारत जैसे देश में एचआईवी / एड्स की स्थिति सामान्य है पर स्थिति आउट ऑफ़ कंट्रोल...
चिंतन चौपाल

डिजिटल इंडिया को कुपोषण की चुनौती …

डिजिटल होने जा रहे इंडिया का एक खौफ़नाक सच हैं कुपोषण...राजस्थान के आंकड़ों पर गौर किया जाए तो बेहद शर्मनाक स्थिति सामने आ रही हैं।...