स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

दुनिया के कई देशों में पहुंची चीन में फैली बीमारी

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। चीन में जब-जब कोई बीमारी बड़े पैमाने पर फैलती है तो वह पूरी दुनिया को अपने लपेटे में लेती ही है। यही हो रहा है बच्चों को बीमार कर रहा रहस्यमयी निमोनिया जो अब दुनिया के 9 देशों में दिखाई पड़ रहा है। नये मामले स्विटजरलैंड और स्वीडन में सामने आए हैं। इसके अलावा भारत समेत पांच से ज्यादा देश अलर्ट मोड में हैं।. हालांकि चीन अभी भी इसे सामान्य बैक्टीरियल इंफेक्शन बता रहा है।

हर जगह बच्चे हो रहे शिकार

चीन में फैल रहे रहस्यमयी निमोनिया की यूरोप के कई देशों में धमक पहुंच चुकी है। यहां भी ज्यादातर बच्चे ही शिकार बन रहे हैं। स्वीडन में 155 से अधिक माइक्रोप्लाज्मा निमोनिया के मामले सामने आ चुके हैं। स्विटजरलैंड में भी 142 से ज्यादा केस मिले हैं। निमोनिया के केस डेनमार्क और नीदरलैंड में भी सामने आ रहे हैं। डेनिश स्वास्थ्य मंत्रालय के कोपेनहेगन स्थित अनुसंधान समूह के मुताबिक नवंबर में ही 541 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। डेनमार्क के विशेषज्ञ हेने डोर्थे एम्बॉर्ग के मुताबिक यह केस अभी और बढ़ने की उम्मीद है क्योंकि कोविड लॉकडाउन के दौरान लोगों की इम्युनिटी कमजोर हुई है। नीदरलैंड इंस्टीट्यूट फॉर हेल्थ सर्विसेज रिसर्च ने बताया कि पिछले सप्ताह पांच से 14 वर्ष की आयु के कई बच्चे निमोनिया से पीड़ित मिले थे।

चीन में रोज आ रहे 7000 केस

मीडिया खबरों के मुताबिक चीन में रहस्यमयी निमोनिया के प्रतिदिन 7 हजार केस औसतन आ रहे हैं। बीजिंग के अस्पताल इससे भरे पड़े हैं। बच्चों को अस्पतालों के फर्श पर बैठकर इलाज कराना पड़ रहा है। दुनिया में वैश्विक बीमारी पर नजर रखने वाली प्रोमेड ने भी इसे लेकर एक चेतावनी जारी की है। कोरोना के समय भी इस संस्था ने सबसे पहले दुनिया को चेताया था।

Related posts

बेंगलुरु में आयुष उत्कृष्टता केंद्र परियोजना का हुआ उद्घाटन

admin

छोटी नदियों के पुनरुद्धार पर एक्सपर्ट का विशेष जोर

admin

Leave a Comment