स्वस्थ भारत मीडिया
नीचे की कहानी / BOTTOM STORY फ्रंट लाइन लेख / Front Line Article विविध / Diverse समाचार / News स्वस्थ भारत अभियान / Healthy India Campaign स्वस्थ भारत यात्रा / Healthy India Travel स्वस्थ भारत यात्रा रपट / Healthy India Travel Report

बा-बापू को समर्पित यात्रा

स्वस्थ भारत यात्री पहुंचे मध्यप्रदेश, जबलपुर में हुआ भव्य स्वागत
• संत ज्ञानेश्वरी ने कहा, प्राथमिक स्कूलों के पाठ्यक्रमों में स्वास्थ्य को शामिल किया जाए
• कस्तुरबा गांधी की पूण्य तिथि पर स्वस्थ भारत यात्रियों के साथ स्थानीय लोगों ने की पदयात्रा
• योगमनी नर्सिंग इंस्टीट्यूट की छात्राओं ने कहा, जनऔषधि को देंगे बढ़ावा
• महर्षि बावरा विद्यापीठ में बच्चों के स्वास्थ्य की नियमित होती है देखभाल
• यात्री दल ने दो जनऔषधि केन्द्रों का किया दौरा, जरूरतमंद मरीजों की देखी भीड़

भोपाल/जबलपुर (मध्यप्रदेश)

नागपुर से चलकर स्वस्थ भारत यात्री मध्यप्रदेश के संस्कारधानी जबलपुर पहुंचे। यहां स्वस्थ भारत यात्रा के दूसरे चरण के दूसरे दिन कस्तुरबा गांधी की पूण्यतिथि पर स्थानीय लोगों ने स्वस्थ भारत यात्रियों के साथ पदयात्रा की।

पदयात्रा के दौरान महात्मा गांधी और कस्तूरबा गांधी के जयकारे लगाए। यात्री दल महर्षि बावरा विद्यापीठ गए और वहां बच्चों को स्वास्थ्य के बारे में जानकारी दी। यात्रा के क्रम यात्री दल योगमणि नर्सिंग इंस्टीट्यूट भी गए। जनऔषधि केन्द्रों का दौरा किया। यात्रियों से जरूरतमंद मरीजों ने कहा कि उनके लिए बहुत जरूरी हैं जनऔषधि केन्द्र। इसकी संख्या में बढ़ोतरी होनी चाहिए।
यात्रा दल के प्रमुख आशुतोष कुमार सिंह के नेतृत्व में जबलपुर में मालवीय चौक से गांधी भवन (टाउन हॉल) तक कस्तूरबा गांधी को उनकी पूण्य तिथि पदयात्रा कर श्रद्धाजंलि दी गई। यात्रा में स्थानीय युवाओं सहित प्रसून लतांत, प्रियंका सिंह, विवेक कुमार, शंभू कुमार, विनोद रोहिल्ला एवं पवन कुमार, विनीत कुमार झा, नितिन भाटिया, पंडित संदेश महाराज, सुशील कुमार द्विवेदी, रिमझीम यादव आदि शामिल थे।
गांधी भवन पहुंचने पर हुई सभा में बोलते हुए यात्रा प्रमुख आशुतोष कुमार सिंह ने कहा कि यह यात्रा बा-बापू को समर्पित है। बा-बापू ने देश को समृद्ध बनाने के लिए खुद को न्योछावर कर दिया मौजूदा समय में अनेक समस्याओं के समाधान के लिए बा-बापू अनेक विकल्प छोड़ गए हैं। जिसे अपनाकर हम स्वस्थ भारत का निर्माण कर सकते हैं। इस अवसर पर वरिष्ठ गांधीवादी पत्रकार प्रसून लतांत कस्तूरबा गांधी श्रद्धाजंली देते हुए कहा कि महात्मा गांधी के वैश्विक व्यक्तित्व के निर्माण में कस्तूरबा गांधी का महत्वपूर्ण योगदान रहा है लेकिन हम उन्हें भूल-से गए हैं। आज हमें उन्हें याद कर महिलाओं को सार्वजनिक जीवन में प्रतिष्ठित कर सकते हैं।
आशुतोष कुमार सिंह एवं प्रसून लतांत ने योगमणि नर्सिंग इंस्टीट्यूट की छात्राओं और महर्षि बावरा विद्यापीठ के विद्यार्थियों को भी संबोधित किया। भारी संख्या में मौजूद छात्राओं ने स्वस्थ भारत यात्रा के मकसद की सराहना की। उन्होंने जनऔषधि के प्रचार प्रसार के लिए जोर दिया ताकि बा-बापू के अंतिम जन को बीमारियों से मुक्ति पाने में सहायता मिल सके। इस मौके पर भाजपा नेता नितिन भाटिया ने जेनरिक दवा एवं ब्रांडेड दवा के अंतर को स्पष्ट करते हुए कहा कि जेनरिक दवाई मां के बुने हुए स्वेटर हैं तो ब्राडेट कंपनियों की दवाइयां बड़े-बड़े मॉल में बिकने वाले स्वेटर हैं। लेकिन मां के बूने स्वेटर में जो ममता और अपनापन है वह मॉल के ब्रांडेड स्वेटर में नहीं है। उन्होंने जेनरिक दवाइयों के इस्तेमाल की अपील की। यात्री दल को अति प्रसन्नता हुई जब महर्षि बावरी विद्यापीठ की साध्वी मैत्रेयी ने बताया कि उनके विद्यापीठ में बच्चों के स्वास्थ्य की नियमित देखभाल की जाती है। साथ ही अभिभावको को भी बच्चों के स्वास्थ्य की देख-रेख के लिए सचेत एवं प्रेरित किया जाता है। विद्यापीठ में सभी बच्चों के हेल्थकार्ड बनाएं जाते हैं ताकि उनके स्वास्थ्य का समूचित ख्याल रखा जा सके।
महर्षि विद्यापीठ की प्रमुख संत ज्ञानेश्वरी ने यात्री दल को बताया कि उनके यहां बच्चों के स्वास्थ्य के समूचित ख्याल के साथ-साथ उनको योग और आसन आदि भी नियमित रूप से कराए जाते हैं। उन्होंने कहा कि, देश के सभी स्कूलों के पाठ्यक्रमों में प्राथमिक स्तर से स्वास्थ्य की पढ़ाई होनी चाहिए ताकि बच्चे अपने प्रारंभिक जीवन से ही स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें।
जबलपुर स्थित विभिन्न जनऔषधि केन्दों का यात्री दल ने दौरा किया। उन केन्द्रों पर जरूरतमंद मरीजों की भीड़ देखी गई। केन्द्र संचालकों ने बताया कि जनऔषधि केन्द्रों की संख्या बढ़ाई जानी चाहिए ताकि मरीज ब्राडेड दवाइयां खरीद कर तबाह नहीं हो सके।
स्वस्थ भारत यात्रा-2 के स्थानीय समन्वयक विनीत झा ने बताया कि यह यात्रा जबलपुर से रायपुर, बिलासपुर होते हुए ओड़िसा जायेगी। फिर पश्चिम बंगाल होते हुए झारखंड में प्रवेश करेगी। इस यात्रा का द्वितीय चरण सिलीगुड़ी में संपन्न होगा।
गौरतलब है कि स्वस्थ भारत यात्रा-2 महात्मा गांधी के 150 वी जयंती वर्ष में स्वस्थ भारत अभियान के अंतर्गत स्वस्थ भारत (न्यास) द्वारा निकाली गई है। 30 जनवरी को साबरमती आश्रम से निकली यह यात्रा 9 राज्यों का दौरा कर मध्यप्रदेश पहुंची है। इस यात्रा का ध्येय वाक्य है स्वस्थ भारत के तीन आयामः जनऔषधि पोषण एवं आय़ुष्मान। इस यात्रा को प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना सहित कई गैरसकारी संस्थाओं का सहयोग एवं समर्थन प्राप्त हुआ है।
संपर्क
मीडिया टीम
9891228151, 9958103129

Related posts

कैंसर ग्रस्त बच्चों के लिए सरकारी उपचार! 

Ashutosh Kumar Singh

कोरोना के बढ़ते मामलों पर केंद्र चिंतित, सतर्कता की सलाह

admin

मन की बात कार्यक्रम में बोले प्रधानमंत्री, भारतीय चिकित्सकों ने पूरी दुनिया में अपनी की पहचान कायम की है

Leave a Comment