स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

कैंसर की वैक्सीन का क्लिनिकल परीक्षण करेगा अमेज़ॅन

अजय वर्मा

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। अमेज़ॅन कंपनी अब स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में उतर कर कैंसर का टीका विकसित करने की तैयारी में है। इसके लिए उसने सिएटल के फ्रेड हचिंसन कैंसर केंद्र के साथ हाथ मिलाया है। वह नैदानिक परीक्षण शुरू करने के लिए रोेगियों की भर्ती की प्रक्रिया में है।

सस्ते इलाज की उम्मीद

कैंसर के सटीक और सस्ता उपचार के लिए ये परीक्षण होने हैं। माना जा रहा है कि वैक्सीन कीमोथेरेपी का एक अच्छा विकल्प भी हो सकता है। क्लिनिकल ट्रियल्स डॉट जीओवी पर एक फाइलिंग के अनुसार अमेज़ॅन और फ्रेड हचिंसन पहले चरण के परीक्षण के लिए 18 वर्ष से अधिक आयु के 20 प्रतिभागियों की भर्ती करना चाह रहे हैं। लक्ष्य व्यक्तिगत टीके विकसित करने का है जो स्तन कैंसर और मेलेनोमा का इलाज कर सकता है, जो त्वचा कैंसर का एक रूप भी है।

मिली परीक्षण की मंजूरी

फ्रेड हच और अमेज़ॅन दोनों अपनी साझेदारी की पुष्टि कर चुके हैं। इसका नेतृत्व फ्रेड हच कर रहे हैं। अमेज़ॅन कैंसर के कुछ रूपों के लिए व्यक्तिगत उपचार के विकास का पता लगाने के लिए फ्रेड हच के साथ साझेदारी में वैज्ञानिक और मशीन सीखने की विशेषज्ञता का योगदान दे रहा है। फ्रेड हच ने हाल ही में अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन से पहले चरण के नैदानिक परीक्षण के साथ आगे बढ़ने की अनुमति ली है। यह स्पष्ट नहीं है कि यह सफल होगा या नहीं।

Related posts

मंकीपॉक्स : अमेरिका में पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी

admin

HIV की दवा कोरोनाजनित रोगों को रोकने में कारगर

admin

आईआईएससी और मेलबर्न विश्वविद्यालय शुरू करेंगे संयुक्त पीएच. डी.

admin

Leave a Comment