स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

कोरोना का नया वेरिएंट JN.1 केरल पहुंचा, सिंगापुर भी परेशान

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। कोरोना के नए वेरिएंट JN.1 को लेकर दुनिया भर में चिंता बढ़ गयी है। केरल में इससे दो की मौत की खबर है जबकि 1353 पाज़िटिव मिले हैं। उधर चीन-अमेरिका भी इसे लेकर दुनिया को विंतित कर रहा है।

बुजुर्ग महिला में मिला नया वेरिएंट

केरल में आठ दिसंबर को कोविड-19 के सब-वैरिएंट JN.1 का एक मामला दर्ज हुआ है। 79 साल की महिला के नमूना का 18 नवंबर को RT-PCR परीक्षण में पॉजिटिव आया था। उसमें जुकाम जैसी बीमारियों के हल्के लक्षण थे। वह कोविड-19 से उबर चुकी थीं। JN.1 की पहचान पहली बार लक्जमबर्ग में की गई थी। कई देशों फैला यह संक्रमण पिरोलो स्वरूप (BA.2.86) से जुड़ा है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर BA.2.86 और इसके सब-वैरिएंट के 3,608 मामले सामने आए हैं। इनमें से ज्यादातर यूरोप और उत्तरी अमेरिका से हैं।

पूरे मामले पर केंद्र की नजर

नए वैरिएंट के बारे में भारतीय Sars-cov-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (INSACOG) के चीफ डॉक्टर एनके अरोड़ा ने कहा है कि JN.1 के कुछ ही मामले हैं। यह BA.2.86 का सब-वैरिएंट है। इस पर सरकार की नजर है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि यह काफी तेजी से फैलने वाला वैरिएंट है। यह उन्हें भी संक्रमित कर सकता है जिन्हें कोरोना वैक्सीन लग चुकी है। उधर चीन में भी इस नए वैरिएंट से लोग संक्रमित होने लगे हैं हालांकि संख्या अभी कम है। राष्ट्रीय रोग नियंत्रण और रोकथाम प्रशासन का कहना है कि फिलहाल इसका खतरा काफी कम है लेकिन आगे खतरनाक हो सकता है।

सिंगापुर में भी मरीज 60 हजार पार

उधर सिंगापुर में कोरोना के मामले बढ़कर 60 हजार के पार चले गए हैं। यह आंकड़े बीते हफ्ते के हैं। उससे पिछले हफ्ते यह आंकड़ा 32 हजार था। वहां के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार बीते हफ्ते में देश में कोरोना के मामलों में 75 फीसद की बढ़ोतरी हुई है। अधिकतर मरीज JN.1 के हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते अब 19 दिसंबर से रोजाना कोरोना अपडेट जारी करने का फैसला किया गया है।

Related posts

जागरूकता के बाद भी पर्याप्त अंगदान नहीं : NOTTO

admin

डीएनए डेटा बैंक बनाने की सरकार की तैयारी

admin

दिल्ली में लगे 83 शिविर, मुफ्त स्वास्थ्य परामर्श और दवा वितरित

admin

Leave a Comment