स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

खसरा वैक्सीन पर मीडिया का दावा भ्रामक : स्वास्थ्य मंत्रालय

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। भारत में अनुमानित 11 लाख बच्चे 2022 में खसरे के टीके की पहली खुराक से वंचित होने का दावा करने वाली मीडिया रिपोर्ट को स्वास्थ्य मंत्रालय ने भ्रामक और असत्य है। 2022-23 में पात्र 2,63,84,580 बच्चों में से कुल 2,63,63,270 बच्चों को खसरे के टीके की पहली खुराक दी गई।

रिपोर्ट पिछले साल के आंकड़ों पर आधारित

विश्व स्वास्थ्य संगठन और यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार कुछ मीडिया रिपोर्टों में आरोप लगाया गया है कि भारत में अनुमानित 11 लाख बच्चे 2022 में खसरे के टीके की पहली खुराक लेने से चूक गए। मंत्रालय का दावा है कि ये रिपोर्ट तथ्यों पर आधारित नहीं हैं। ये रिपोर्ट विश्व स्वास्थ्य संगठन के यूनिसेफ एस्टिमेट्स नेशनल इम्यूनाइजेशन कवरेज (WUENIC) 2022 रिपोर्ट के तहत रिपोर्ट की गई अनुमानित संख्या पर आधारित हैं, जो सिर्फ जनवरी 2022 से 31 दिसंबर 2022 तक की समयावधि को कवर करती है।

मात्र 21 हजार बच्चे वंचित

हालांकि, केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के स्वास्थ्य प्रबंधन सूचना प्रणाली (HMIS) के अनुसार पात्र 2,63,84,580 बच्चों में से कुल 2,63,63,270 बच्चों को वित्त वर्ष 2022-23 में खसरे के टीके (MCV) की पहली खुराक मिली और 2022-23 में केवल 21,310 बच्चे खसरे के टीके की पहली खुराक से वंचित हुए। इसके अलावा भारत सरकार द्वारा राज्यों के सहयोग से कई पहल की गई हैं ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि सभी बच्चों को, चाहे टीका न लगा हो या आंशिक रूप से टीका लगाया गया हो, खसरे के टीके (MCV) की सभी छूटी हुई बकाया खुराकें मिलें।

Related posts

कोरोना संक्रमित लोगों में हाई ब्लड प्रेशर का खतरा

admin

माहवारी गौरव का क्षण है, इसके बारे में खुलकर बात करेंः डॉ. ममता ठाकुर

Leave a Comment