स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

मातृ मृत्यु दर (MMR) में 6.36 प्रतिशत की गिरावट

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। UN-MMEIG की रिपोर्ट के अनुसार भारत का MMR 2000 में 384 से घटकर 2020 में 103 हो गया है, जबकि वैश्विक MMR 2000 में 339 से घटकर 223 हो गया है। वैश्विक MMR में कमी की औसत वार्षिक दर 2000-2020 की अवधि में 2.07 प्रतिशत थी, जबकि भारत के MMR में 6.36 प्रतिशत की कमी आई है, जो वैश्विक गिरावट से अधिक है। यह जानकारी राज्यसभा में महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने एक लिखित उत्तर में दी।

कनार्टक में M POX का संक्रमण बढ़ा

मंकी फीवर से कर्नाटक में दो लोगों की मौत की खबर है। पहली मौत 8 जनवरी को 18 वर्षीय एक लड़की की हुई जबकि दूसरी मौत उडुपी जिले में एक 79 वर्षीय व्यक्ति की रिपोर्ट की गई है। अब तक वहां 50 से अधिक मामले सामने आए हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने सभी लोगों को अलर्ट रहने की सलाह दी है। मंकीफीवर को क्यासानूर फॉरेस्ट डिजीज (केएफडी) भी कहा जाता है। इसके जानवरों से इंसानों में संक्रमण फैलने का खतरा हो सकता है। इसका जोखिम जंगली इलाकों, उन क्षेत्रों में अधिक देखा जाता है जहां पर बंदरों की आबादी अधिक होती है।

60 करोड़ लोगों को स्वास्थ्य सुरक्षा

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने बताया है कि 12 करोड़ परिवारों अर्थात लगभग 60 करोड़ लोगों को ‘स्वास्थ्य सुरक्षा’ दी गई है और जन औषधि केंद्रों के माध्यम से गरीबों को आवश्यक दवाएं किफायती दामों में उपलब्ध कराई जा रही हैं। उन्होंने यह भी बताया कि दवाओं की उच्च गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए एक सतर्कता प्रणाली है जो एक सतत प्रक्रिया है। देश में पहले 350 मेडिकल कॉलेज थे जो आज बढ़ कर 760 हो गए हैं। उन्होंने कहा कि यह सब डॉक्टरों की उपलब्धता बढ़ाने के लिए किया गया।

Related posts

गंदे हाथों से नसबंदी, 4 महिलाओं की मौत

Ashutosh Kumar Singh

IYOM 2023 बाजरा को पौष्टिक अनाज के रूप में स्थान देगा : तोमर

admin

डेंगू के बढ़ते केस से स्वास्थ्य मंत्रालय चिंतित

admin

Leave a Comment