स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

अस्पताल के sensetive zone में मोबाइल लेकर जाने पर रोक

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। एक सुरक्षा उपाय के रूप में और मजबूत संक्रमण नियंत्रण प्रथाओं को सुनिश्चित करने के लिए अस्पताल के हेल्थ वर्कर को अब ड्यूटी के दौरान कोहनी से नीचे के सभी प्रकार के आभूषण उतारने होंगे। उन्हें रोगी क्षेत्रों और ICU, HDU, पोस्ट-ऑपरेटिव वार्ड और ऑपरेशन रूम सहित महत्वपूर्ण क्षेत्रों में मोबाइल फोन के उपयोग को प्रतिबंधित करने का भी निर्देश स्वास्थ्य मंत्रालय ने दिया है। उसके निर्देश में कहा गया है कि मरीजों और कर्मचारियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए इसका पालन सख्ती से हो।

भीषण गर्मी से बढ़ेंगे स्ट्रोक के मामले

पिछले कुछ सालों से दुनियाभर में ग्लोबल वार्मिंग की समस्या बढ़ती जा रही है। इसके अलग-अलग हानिकारक दुष्प्रभाव देखने को मिल रहे हैं। इसका असर बच्चों पर भी तेजी से देखा जा रहा है। जर्नल न्यूरोलॉजी में प्रकाशित एक स्टडी के मुताबिक ग्लोबल वार्मिंग और स्ट्रोक का आपस में सीधा संबंध है। ग्लोबल वार्मिंग के कारण दुनियाभर में स्ट्रोक के खतरा बढ़ सकता है। 2019 में स्ट्रोक के 12.2 मिलियन मामले सामने आए थे, जिसके चलते 6.55 मिलियन लोगों की मौत तक हुई थी। स्टडी की मानें तो तापमान का स्तर ज्यादा रहने से स्ट्रोक होने का खतरा भी बढ़ने लगता है।

Related posts

दर्द भरी बायोप्सी से छुटकारा दिलायेगा लॉलीपॉप

admin

दंत-रोगों को हल्के में ले रही है हरियाणा सरकार, दंत चिकित्सकों को नौकरी से निकाल फेंका

Ashutosh Kumar Singh

प्रभावी टीबी वैक्सीन विकसित करने की दिशा में रिसर्च

admin

Leave a Comment