स्वस्थ भारत मीडिया
Uncategorized समाचार / News

मृत्यु के बाद मेडिकल छात्रों के लिए हुआ देहदान

पटना (स्वस्थ भारत मीडिया)। बेगूसराय के निरंजन जी का पूरा परिवार समाज के लिए अनुकरणीय है। निरंजन जी के पिता अवधेश कुमार लाल, अधिवक्ता का पिछले दिनों आकस्मिक निधन हो गया था। उनके पूरे परिवार ने अपना देह दान कर रखा है। उनकी माता जी मुकुल लाल इल्तिज़ा जिले की जानी मानी शायरा भी हैं।

समाज के लिए बने मिसाल

निरंजन जी अपने स्वर्गवासी पिता के पार्थिव शरीर को लेकर IGIMS, पटना गये जहां उनके शरीर का इस्तेमाल मेडिकल की पढ़ाई करने वाले विद्यार्थी कर सकेंगे। बता दें कि प्रत्येक 20 विद्यार्थी पर एक देह की आवश्यकता होती है। लेकिन बिहार में मृत शरीर नहीं मिल पाने के कारण यहां औसतन 300 विद्यार्थी पर एक देह उपलब्ध है। ऐसे नेक काम के कारण निरंजन जी और उनका पूरा परिवार ना सिर्फ जिले के लिए बल्कि पूरे समाज के लिए एक मिसाल बन गये हैं।

Related posts

Surprise : एक साथ हुआ कोरोना, मंकीपॉक्स और एचआईवी

admin

हर तबके के लिए जरूरी किताब – विटामिन ज़िन्दगी

Ashutosh Kumar Singh

New Technology : अब घंटों का काम सेकेंड भर में होगा

admin

Leave a Comment