स्वस्थ भारत मीडिया
कोविड-19 / COVID-19 बचाव एवं उपचार / Prevention & Treatment

कोविड-19: खुद की क्षमता को पहचानें और खुद को करें मजबूत

भ्रम और डर का नाम बाजार है। कोविड-19 के इस दौर में इससे बचने और संतुलित जीवन-चर्या अपनाने पर जोर दे रही हैं वरिष्ठ अंतरराष्ट्रीय लाइफकोच डॉ. अभिलाषा द्विवेदी

Dr.Abhilasha Dwivedi, International Life Coach
Dr.Abhilasha Dwivedi, International Life Coach

कोविड-19 से बचाव के लिए तमाम नुस्खे, सप्लिमेंट्स और तरह-तरह की चीज़ों के सेवन की बातें वायरल हो रही हैं। आपको बता दूँ कि तथाकथित आरोग्य एक्सपर्ट और बाज़ार के झांसे में न आएं। जब तक शरीर में किसी विटामिन, मिनरल्स,  पोषक तत्वो की कमी नहीं हो, बाहर से कोई भी सप्लिमेंट्स लेने का कोई लाभ नहीं होता।
ताकि रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़े
विटामिन सी भी शरीर में रुकता नहीं है, शरीर को जितनी ज़रूरत होती है उससे अतिरिक्त शरीर बाहर कर देता है। बेहतर है कि सामान्य संतुलित भोजन को स्थान दें। जिसमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन, मिनरल भारतीय जीवन शैली के शब्द कोष के अनुरूप कहें तो, जिसमें सभी रस हों हो ऐसा संतुलित भोजन करें। जीवन-शैली प्रकृति सापेक्ष रखें। सुबह जागना और रात को सोने का समय भी सुनिश्चित होना चाहिए। नियमित रूप से शारीरिक श्रम या व्यायाम करें। मन और चित्त को शांत और दृढ़ बनाने के लिए योग, ध्यान का अभ्यास करें। यह सब सामान्य रूप से शरीर को स्वस्थ बनाए रखने, प्रतिरोधक क्षमता अच्छी रखने के लिए आवश्यक है। COVID-19 के लिए यह कोई विशेष उपाय नहीं है। प्रतिरक्षा तंत्र ठीक रहेगा तो कोरोना वायरस  हो या कोई भी अन्य वायरस सबसे बचाव होगा। ये उपाय या ऐसे कोई भी प्रयास कोविड-19 को मारने के लिए अप्रूव्ड नहीं हैं।
विटामिन-डी  की कमी ज़रूर अधिकतर लोगों में देखी जा सकती है। जो हड्डियों की समस्या के साथ साथ रेस्पीरेटरी  संबंधित समस्या को बढ़ा सकता है। जिसका आम कारण आजकल लोगों को सुबह की धूप में नहीं निकलना है। धूप विटामिन डी का स्रोत है।
कोविड-19 से बचने के लिए क्या किया जाना चाहिए?

  • तो इसके लिए यही ज़रूरी है कि सरकार द्वारा जारी निर्देशों का पालन करें
  • जितना हो सके सार्वजनिक जगहों पर जाने, घर के अलावा मित्रों आदि से मिलना जुलना न करें
  • कुल मिलाकर शारीरिक डिस्टेंसिंग बनाए रखें
  • साफ़ सफ़ाई का ध्यान रखे
  • संतुलित आहार लें
  • पानी उचित मात्रा में पिएं
  • नियमित योग, व्यायाम करें
  • किसी भी तरह के अप्रमाणिक स्रोत से आई जानकारी के बहकावे में आकर अपना इलाज खुद नहीं करें
  • किसी भी तरह की स्वास्थ्य संबंधी परेशानी होने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह लीजिए

लॉक डाउन के दौरान शारीरिक स्वास्थ्य अच्छा रहे, उसके लिए मन का ठीक रहना भी ज़रूरी है। मानसिक स्वास्थ्य स्वस्थ बना रहे उसके लिए इन बातों को अंगीकार करें।
तो ऐसे रहेंगे आप मानसिक रूप से चंगा

  • ध्यान करें
  • अच्छी पुस्तकें पढ़ें
  • नकारात्मक ख़बरों से दूरी बना कर रखें
  • भ्रामक और अवसाद या उत्तेजना पैदा करने वाले संदेश फैलाने वाले सोशल मीडिया ग्रुप्स से दूर रहें।
  • अच्छे विचारों वाले सकारात्मक ऊर्जा वाले लोगों से बातचीत करें।
  • परिवार और मित्रों से बातों के माध्यम से सुख दुख बांटे
  • पर्याप्त नींद लें
  • इस समय का सदुपयोग कुछ नया जानने सीखने के लिए भी कर सकते हैं
  • सुरक्षित रहें स्वस्थ रहे

Related posts

आरोग्य सेतु ऐप का डाटा चोरी न हो इसे सुनिश्चित करे सरकारः के.एन.गोविंदाचार्य

Ashutosh Kumar Singh

‘सामाजिक आपातकाल’ के दौर में देश: प्रधानमंत्री

Ashutosh Kumar Singh

लॉकडाउन 3.0 में आपका स्वागत है…

Ashutosh Kumar Singh

Leave a Comment