स्वस्थ भारत मीडिया
SBA विशेष कोविड-19 गैर सरकारी संगठन समाचार

पत्रकारों की होगी कोविड-19 की जांच, डीजेए ने किया स्वागत

कोविड-19

पत्रकारों की सुरक्षा का ध्यान रखते हुए दिल्ली सरकार ने उनकी कोविड-19 जांच कराने का निर्णय लिया है। इसका स्वागत करते हुए दिल्ली पत्रकार संघ ने संक्रमण की दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति में पीड़ित पत्रकारो के लिए समुचित मुआवजे की मांग की है

 

नई दिल्ली, 22 मार्च/ एसबीएम

दिल्ली सरकार अब पत्रकारों का भी कोविड-19 जांच कराने जा रही है। इस निर्णय का स्वागत दिल्ली पत्रकार संघ (डीजेए) ने किया है। हाल ही में मुंबई में 53 पत्रकारों के कोविड-19 संक्रमित पाए जाने के बाद से पत्रकारों की सुरक्षा का प्रश्न उठने लगा है।

डीजेए ने संक्रमण की दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति में पीड़ित पत्रकार के लिए समुचित मुआवजा दिये जाने की व्यवस्था की मांग भी किया है। दिल्ली पत्रकार संघ (डीजेए) के अध्यक्ष मनोहर सिंह और महासचिव अमलेश राजू ने कहा कि अपनी जान जोखिम में डालकर कोविड-19 काल में राजधानी दिल्ली के चप्पे-चप्पे पर लगे पत्रकारों की टीम अपने स्तर से ना केवल सही जानकारी लोगों तक पहुंचा रही है बल्कि जरूरत पड़ने पर कई जरूरतमंदों को उनके ठिकाने तक पहुंचाने में भी अहम भूमिका अदा की है!

यह भी पढ़ें…देश में 55 पत्रकार हुए कोविड-19 संक्रमित, प्रो. के.जी. सुरेश की मीडियाकर्मियों के लिए जारी की गई गाइडलाइंस की आई याद

नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट (इंडिया) की राज्य इकाई दिल्ली पत्रकार संघ मानती है कि पत्रकारिता व पत्रकारों की भूमिका किसी सामान्य नौकरी या कारोबार तक सीमित नहीं है बल्कि यह समाज सेवा के सबसे बड़े साधनों के रूप में है। कोरोना वायरस महामारी के इस अभूतपूर्व संकट के समय मीडियाकर्मियों ने अपने-अपने घर में कैद पड़े लोगों तक गली-मुहल्ले से लेकर देश दुनिया की खबरें पहुँचाने में अपने आपको दिन रात लगा रखा है। मीडियाकर्मी आज लाकडाउन में फंसी जनता और बाहरी दुनिया के बीच सेतु का काम कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस घड़ी में मीडिया कर्मियों के रोल की महत्ता को राष्ट्र के नाम अपने संदेश में विशेष रूप से रेखांकित कर चुके हैं।

तो क्या सच में लाइलाज है कोविड-19

डीजेए अध्यक्ष मनोहर सिंह का कहना है कि, ‘कोविड-19 ने समाज के हर वर्ग की तरह मीडिया कर्मियों को भी प्रभावित किया है। घर परिवार छोड़कर और 24 घंटे कोरोना की रिपोर्टिंग करते हुए मुंबई में जिस तरह शुरुआती जांच में ही 53 पत्रकार कोविड-19 पीड़ित पाए गए हैं, उससे दिल्ली के पत्रकार भी चिंतित हो गए है! ऐसे में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के पत्रकारों का कोरोना जांच कराने का आश्वासन देकर एक संतोष की अनुभूति दिलाया है! इससे पत्रकारों के मनोबल पर सकारात्मक प्रभाव होगा।’

कोविड-19 के प्रभाव-प्रसार का भौगिलिक संबंध

डीजेए ने दिल्ली सरकार से मांग कि है कि दिल्ली में किसी मीडिया कर्मी के दुर्भाग्य से कोरोना से संक्रमित होने पर उसे पर्याप्त मुआवजा/ वित्तीय सहायता दिए जाने की व्यवस्था किया जाए।

Related posts

प्राकृतिक चिकित्सक के रूप में गांधी

swasthadmin

दो लाख आबादी को कवर करने वाली मलेरिया उन्‍मूलन प्रदर्शन परियोजना का शुभारंभ मांडला में होगा – श्री जेपी नड्डा

Vinay Kumar Bharti

बहाल हुए हरियाणा के निष्कासित एनएचएम कर्मी

swasthadmin

Leave a Comment