स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार

50 हजार रुपये दो पत्नी का शव ले जाओ!

फाइल फोटो
फाइल फोटो

पत्नी की लाश के लिए दर-दर भटक रहा है मुजफ्फरपुर का शिवकुमार

नई दिल्ली/26.11.15
अस्पतालों की मनमर्जी बढ़ती जा रही है…नया मामला बिहार के मुजफ्फरपुर से आ रहा है…मीनाक्षी हॉस्पीटल एक गरीब दलित परिवार को मृतिका का लाश नहीं दे रहा है…मृतिका का नाम रिवा कुमारी है…वैशाली जिला के पहाड़पुर गांव के रहने वाले शिवकुमार पासवान की पत्नी रिवा गर्भवति थीं। जच्चा व बच्चा की मौत के बाद पासवान से अस्पताल प्रशासन 50 हजार रुपये और मांग रहा है. गरीब शिवकुमार किसी तरह 30 हजार रुपये व्यवस्था कर पाया था..जो पहले ही खर्च हो चुके हैं…। इस बावत सामाजिक कार्यकर्ता अमिताभ भूषण ने बताया कि यह परिवार दुसाद जाति का है, और बहुत ही गरीब है। इनके पास ईलाज का पैसा देने की हैसियत नहीं है। ऐसे में सवाल यह उठता है कि क्या एक गरीब मरीज को ठीक से ईलाज कराने का अधिकार इस देश में नहीं है…!
गौरतलब है कि इसी तरह का एक मामला पिछले दिनों पटना के अस्पताल में भी देखने कोे मिली थी। स्वस्थ भारत अभियान के हस्तक्षेप के बाद अस्पताल ने परिजनों को लाश सौंपा था। स्वस्थ भारत अभियान अस्पताल प्रशासन से मांग करता है कि वह शिवकुमार महतो के परिवार को जल्द से जल्द लाश सुपुर्द करे। साथ ही स्थानीय प्रशासन इस पर ध्यान दें।
 

Related posts

स्वस्थ भारत यात्रियों ने पूरे किए 50 दिन

Hearing loss can be a big factor in dementia

swasthadmin

भूखमरी की कगार पर अरुणाचल के एनएचएमकर्मी, बैठे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर…

swasthadmin

Leave a Comment