स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

CGHS लाभार्थियों के लिए लैब टेस्ट के रेट तय

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। CGHS के दायरे में आने वाले केंद्र सरकार के 42 लाख कर्मचारियों को अब टेस्ट के लिए ज्यादा रुपये खर्च नहीं करने पड़ेंगे। स्वास्थ्य मंत्रालय ने विभिन्न तरह के 36 टेस्ट के रेट निर्धारित किए हैं। ये टेस्ट नेशनल एक्रेडिटेशन बोर्ड फॉर टेस्टिंग एंड कैलिब्रेशन लेबोरेटरीज (NABL) और नेशनल एक्रीडिटेशन बोर्ड फॉर हॉस्पिटल्स एंड हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स (NABH) से मान्यता प्राप्त किसी भी लैब में कराए जा सकते हैं। गैर मान्यता प्राप्त लैब के भी रेट तय किए गए हैं।

मान्यता प्राप्त लैब में इको टेस्ट 1475 रुपये में

निदेशालय द्वारा हाल ही में जारी सूचना के मुताबिक अगर कोई लाभार्थी मान्यता प्राप्त लैब पर ईसीजी कराता है तो उसे 175 रुपये देने पड़ेंगे। यही टेस्ट गैर मान्यता प्राप्त लैब पर 150 रुपये में होगा। मान्यता प्राप्त लैब में इको टेस्ट 1475 रुपये में, जबकि गैर मान्यता प्राप्त लैब में इसके लिए 1255 रुपये देने होंगे। मान्यता प्राप्त लैब में फेटल इको टेस्ट 1600 रुपये में होगा तो गैर मान्यता प्राप्त लैब में 1360 रुपयों में होगा। स्ट्रेस इको टेस्ट के लिए मान्यता प्राप्त लैब में 2400 रुपये, जबकि गैर मान्यता प्राप्त लैब में 2040 रुपये लगेंगे। मान्यता प्राप्त लैब में MRI कार्डियक के लिए 8000 रुपये देने होंगे। गैर मान्यता प्राप्त लैब में इसके लिए 6800 रुपये देने पड़ेंगे।

अन्य टेस्ट और एक्सरे के भी दर तय

मंत्रालय ने इसी तरह यूएसजी कलर डोपलर प्रेगनेंसी टेस्ट, टेस्टीकुलर स्कैन, थायोराइड स्कैन विद टेक्नेटियम 99 एम पर्टेकनेट टेस्ट, टीएमटी टेस्ट, यूएसजी फॉर अनॉमली स्कैन, यूएसजी होल एब्डोमन/केयूबी का टेस्ट, यूएसजी पेलविस/गाइनेक टेस्ट, यूएसजी ब्रेस्ट टेस्ट, यूएसजी गाइडेड एफएनएसी टेस्ट, एक्सरे, आईवीपी टेस्ट आदि के भी रेट निर्धारित कर दिया है।

Related posts

दिल्ली के अस्पताल में ट्रांसजेंडरों के लिए OPD चालू

admin

गुजरात में मिला रेयर ब्लड ग्रुप, देश में पहला व्यक्ति

admin

Female utilisation of ABPM-JAY services stood at 46.7% of the total utilisation

admin

Leave a Comment