स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

मानसिक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं ने सीखे काउंसलिंग के कौशल

पटना (स्वस्थ भारत मीडिया)। पटना जिला सामाजिक सुरक्षा कोषांग तथा मारीवाला हेल्थ इनीशियेटिव (MHI) के तत्वावधान में 5 जनवरी को एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन राज्य मुख्यालय सक्षम में किया गया। इसमें पटना के राजकीय संस्थान MI हाफ वे होम्स, भिक्षुक पुनर्वास गृह के कर्मियों को प्रशिक्षण दिया गया।

परिजनों की हो काउंसलिंग

कार्यशाला में कर्मियों को प्रशिक्षण देते हुए डॉ. मनोज कुमार ने बताया कि मानसिक समस्या से ग्रसित लोगों को एक विशेष प्रकार के परामर्श की आवश्यकता होती है। इसके लिए मानवीय मूल्यों का ध्यान रखा जाना चाहिए। मानसिक दिव्यांगता से ग्रसित व्यक्ति के परिजन को भी काउंसलिंग की जरूरत होती है। बहुत बार समाजिक कारणों से लोग परिवार के सदस्यों की मानसिक समस्याएं छुपा लेते हैं जिस कारण से समस्या बढ जाती है। ऐसे में प्रत्येक मानसिक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को समाज के लोगों को जागरूक करने की आवश्यकता है।

गुणवत्ता पूर्ण काउंसलिंग पर फोकस

इस अवसर पर गुणवत्ता पूर्ण काउंसलिंग कैसे हो, बातचीत के लिए कैसे तैयार किया जाए व विपरीत परिस्थितियों में कार्यरत कर्मी कैसे देखभाल करें, उस पर विशेष जोर दिया गया। इस अवसर पर अनेक कौशलों को जीवंत क्रियाकलापों द्वारा कर्मियों को सिखाया गया। कार्यक्रम में कोषांग, पटना की सहायक निदेशक श्रीमती स्नेहा व मारीवाला हेल्थ इनेशेटिव की सुश्री मंगला होनवार द्वारा सभी प्रशिक्षुओं को मार्गदर्शन किया गया। सामाजिक कार्यकर्ता गुरूदेव नंद योगेश ने भी सलाह दी। इस अवसर पर विभिन्न संस्थानों से करीब 50 कर्मचारीगण कार्यशाला में शामिल रहे।

Related posts

बिलासपुर नसबंदी मामलाः सड़क पर डॉक्टर, आफत में मरीज

Ashutosh Kumar Singh

गगनयान टेस्ट व्हीकल स्पेस फ्लाइट 21 अक्टूबर को

admin

बेंगलुरू में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी का शिलान्यास

admin

Leave a Comment