स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

एम्स को विशिष्ट नाम देने की तैयारी में मंत्रालय

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। केंद्र सरकार ने देश भर के सभी 23 एम्स को विशिष्ट नाम देने का प्रस्ताव तैयार किया है। उसके प्रस्ताव में क्षेत्रीय नायकों, स्वतंत्रता सेनानियों, ऐतिहासिक घटनाओं, क्षेत्र के स्मारकों या उनकी विशिष्ट भौगोलिक पहचान के आधार पर सभी एम्स को विशिष्ट नाम देने की योजना है।

मंत्रालय ने मांगा था सुझाव

सूत्रों का कहना है कि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने इस बारे में नामों को लेकर सुझाव मांगा था जिसके बाद अधिकांश एम्स संस्थानों ने नामों की एक सूची जमा कर दी है। अभीं एम्स अपने सामान्य नाम या स्थान से जाना जाता है जैसे-दिल्ली एम्स। इसमें पूरी तरह चालू, आंशिक रूप से चालू या निर्माणाधीन एम्स शामिल हैं।

आ रहे नामों के पैनल

सूत्र ने बताया कि एम्स संस्थानों से विशिष्ट नाम के लिए सुझाव मांगे गए थे। ज्यादातर ने सुझाए गए नामों के लिए एक नोट के साथ तीन से चार नामों का सुझाव दिया है। गौरतलब है कि छह नए एम्स पटना, रायपुर, भोपाल, भुवनेश्वर, जोधपुर और ऋषिकेश को प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के पहले चरण में मंजूरी दी गई थी और ये पूरी तरह चालू हैं। वहीं 2015 से 2022 के बीच स्थापित 16 एम्स में से 10 संस्थानों में एमबीबीएस और आउट डोर की सेवाएं शुरू की गई हैं, जबकि अन्य दो में केवल एमबीबीएस कक्षाएं शुरू की गई हैं। शेष चार संस्थानों में विकास कार्य जारी है।

Related posts

स्वस्थ भारत यात्रियों का आंध्रप्रदेश में प्रवेश

Ashutosh Kumar Singh

वैक्सीनेशन से अमेरिका ने पाया Chikenpox पर काबू

admin

A novel tool to help gain deeper insight into Parkinson’s disease

Ashutosh Kumar Singh

Leave a Comment