स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

CPR के लिए राष्ट्रव्यापी जन जागरूकता कार्यक्रम का शुभारंभ

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने बताया कि यह जरूरी है कि हृदयाघात की स्थिति में मरीज को तुरंत इलाज मिलना चाहिए, इसलिए CPR के लिए जागरूकता और आवश्यक प्रशिक्षण बहुत जरूरी है। उन्होंने CPR  (कार्डियोपल्मोनरी रेससिटेशन) प्रशिक्षण पर नेशनल बोर्ड ऑफ एग्जामिनेशन इन मेडिकल साइंसेज (NBEMS) द्वारा आयोजित राष्ट्रव्यापी जन जागरूकता कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए कही। इस देशव्यापी अभियान में 20 लाख से ज्यादा लोग शामिल हुए।

अस्पताल के खिलाफ जांच के आदेश

स्वास्थ्य मंत्रालय के राष्ट्रीय अंग और ऊतक प्रत्यारोपण संगठन (NOTTO) ने इंद्रप्रस्थ अपोलो अस्पताल के खिलाफ पैसे लेकर किडनी बेचने के घोटाले के आरोपों की जांच शुरू कर दी है। मीडिया के मुताबिक मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि राज्य अंग और ऊतक प्रत्यारोपण संगठन तत्काल मामले की जांच शुरू करेगा। यह आदेश ब्रिटेन के अखबार द टेलीग्राफ की रिपोर्ट सामने आने के बाद दिए गए हैं। रिपोर्ट में आरोप लगाया गया था कि यह निजी अस्पताल समूह एक ऐसे रैकेट में शामिल है जहां म्यांमार के लोगों को पैसों का लालच देकर अपने अंग बेचने का लोभ दिया जा रहा है।

डिप्लोमाधारी ही बन सकेंगे फार्मासिस्ट

पटना हाईकोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि बी. फार्मा, एम. फार्मा व डिप्लोमा के पाठ्यक्रम बिल्कुल अलग हैं। इनमें डिप्लोमा इन फार्मेसी डिग्रीधारी ही सरकारी विभाग में फार्मासिस्ट बनने के योग्य हैं। बी. फार्मा व एम. फार्मा दवा, कॉस्मेटिक निर्माण की फैक्ट्रियों अथवा औषधि निरीक्षक या औषधि नियंत्रण निदेशालय के उच्चतर पदों के योग्य हैं। ऐसे में जिनके पास डिप्लोमा इन फार्मेसी की डिग्री नहीं है, वे फार्मासिस्ट नहीं बन सकते हैं।

Related posts

कुदरती ईलाज़ का महत्व

admin

उभरते फ्रीलांसरों को मिला मंच, गिग प्रदाता भी हुए शामिल

admin

अब ग्रीन पटाखे से मनेगी दीपावली

Ashutosh Kumar Singh

Leave a Comment