स्वस्थ भारत मीडिया
फार्मा सेक्टर समाचार

झारखंड के फार्मासिस्ट अंजन प्रकाश से पीएम ने की लंबी बातचीत

नौकरी छोड़कर लोगों की सेवा करने के लिए फार्मासिस्ट अंजन प्रकाश ने झारखंड के रामगढ़ खोला जनऔषधि केन्द्र

नई दिल्ली/07.06.18
सेहत की  बात पीएम के साथ कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने झारखंड के फार्मासिस्ट श्री अंजन प्रकाश से  लंबी बातचती की। अंजन प्रकाश ने  बताया कि उन्होंने अपनी नौकरी छोड़कर लोगों की सेवा करने के लिए प्रधानमंत्री जनऔषधि केन्द्र खोला है। उन्होंने बताया कि उनका केन्द्र झारखंड के रामगढ़ में है। वहां पर सूदूर गांव से लोग सस्ती दवाइयां लेने के लिए आते है। गरीब लोगों की दुवाएं मिलती हैं। हमें इस बात का संतोष मिलता है कि हमारे कारण लोगों को सस्ती दवाइयां मिल पा रही है। प्रधानमंत्री ने जब पूछा कि जनऔषधि केन्द्र खोलने में आपको भ्रष्टाचार का तो सामना नहीं करना पड़ा, यानी किसी को ज्यादा पैसा तो नहीं देना पड़ा? पीएम के इस प्रश्न का जवाब देते हुए अंजन प्रकाश ने कहा कि हमें महज सात दिनों में ड्रग लाइसेंस मिल गया। प्रधानमंत्री ने अंजन से कहा कि आप जनऔषधि से लाभान्वित लोगों का सम्मेलन कीजिए और उन्हें इसके फायदे के बारे में जागरुक कीजिए। इस पर अंजन प्रकाश का जवाब था कि वो इस दिशा में पहले से ही काम कर रहे हैं।
अंजन प्रकाश जैसे फार्मासिस्ट उन फार्मासिस्टों के लिए एक नजीर हैं, जो अपने निजी लाभ के कारण लोगों को सस्ती दवाइयां पहुंचाने में बाधा उत्पन्न करते हैं। स्वस्थ भारत अभियान हमेंशा से अंजन प्रकाश जैसे फार्मासिस्टों का अभिनंदन करता रहा। अंजन प्रकाश के इस नेक काम के लिए स्वस्थ भारत अभियान के राष्ट्रीय संयोजक आशुतोष कुमार सिहं ने उन्हें शुभकामनाएं प्रेषित की है। दूसरी तरफ अंजन कुमार की बात को रसायन एवं उर्वरक राज्य मंत्री मनसुख भाई ने भई अपने ट्वीटर पर साझा किया है।
 

Related posts

कोरोना से लड़ते गांव-देहात को सलाम

Umesh Chaturvedi

गरीबी उन्मूलन की दिशा में जनऔषधि एक क्रांतिकारी कदम हैः मनसुख भाई मांडविया, रसायन एवं उर्वरक राज्य मंत्री, भारत सरकार

आरएमएल और सफ़दरजंग में दो करोड़ के उपकरण बेकार हो गए

swasthadmin

Leave a Comment