स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

टोमैटो फीवर: बच्चों पर नये वायरस का खतरा बढ़ा

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। कोरोना और मंकीपॉक्स के बाद नई बीमारी टोमैटो फीवर का प्रकोप बढ़ने लगा है। वैसे इसे हैंड, फूट एंड माउथ डिजीज (HFMD) भी कहा जा रहा है। अभी तक भारत में इस बीमारी के 100 से अधिक मामले दर्ज किए जा चुके हैं। उड़ीसा में 26 बच्चे इससे पीड़ित हैं। लैंसेंट जर्नल की एक रिपोर्ट के मुताबिक इन सभी बच्चों की उम्र पांच साल से कम है। इसका पहला केस छह मई को केरल के कोल्लम जिले में मिला था।

कुछ राज्यों में अलर्ट

लैसेंट की रिपोर्ट के मुताबिक यह वायरस केरल में पांच साल से कम उम्र के बच्चों को अपनी चपेट में ले रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक यह केरल के अंचलीय इलाकों जैसे आर्याण्कावू और नेदुवातुर में फैल रहा है। इसके बाद तमिलनाडु और कर्नाटक में इसको लेकर अलर्ट जारी कर दिया गया है। इसमें त्वचा पर लाल रंग के चकत्ते पड़ जाते हैं जिनमें खुजली होती है और डिहाइड्रेशन की समस्या होती है। ये चकत्ते टमाटर से मिलते-जुलते होते हैं। यह संक्रामक रोक है और पांच साल से कम उम्र के बच्चों को अपनी चपेट में ले लेता है।

वायरल के सिवा कुछ नहीं

एक्सपर्ट के अनुसार यह भी वायरल रोग ही है। इससे बच्चों के शरीर में पानी की कमी होने लगती है जिसके कारण यह और गंभीर हो जाती है। इन सब के अलावा तेज बुखार, बदन दर्द, जोड़ों में दर्द, डिहाइड्रेशन और मुंह में छाले भी इसके लक्षण हैं। हाथों, घुटनों, और कूल्हे का रंग फीका पड़ना भी संभव है।

Related posts

ड्रोन से ब्लड बैग डिलीवरी का ट्रायल रन सफल

admin

स्वस्थ भारत जेनरिक दवाइयों की उपलब्धता को लेकर प्रधानमंत्री को लिखे पत्र को आप यहां पढ़ सकते हैं

भारत अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव 17 जनवरी से

admin

Leave a Comment