स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

बिना बायोलॉजी 12वीं करने वाले भी दे सकेंगे NEET परीक्षा

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)।NMC ने मेडिकल पढ़ने वालों की राह आसान करते हुए अब यह व्यवस्था दी है कि 12वीं में अनिवार्य विषय के रूप में बायोलॉजी नहीं पढ़ने वालो छात्र भी नीट यूजी की परीक्षा में बैठ सकते हैं। शर्त यही है कि बायोलॉजी अतिरिक्त विषय कैटेगरी में पढ़ा हो। नये निर्देश के मुताबिक यह प्रणाली 2024 से हो रही है। पहले 12वीं में फिजिक्स, केमेस्ट्री और बायोलॉजी पढ़ने वाले डॉक्टर बनने का लक्ष्य रखते थे तो मैथ लेकर पढ़ने वाले इंजीनियर। अब एडिशनल विषय में बायोलॉजी पढ़ने वाले भी नीट परीक्षा पास कर MBBS में नामांकन ले सकते हैं।

MBBS छात्रों को अच्छे व्यवहार पर मिलेगा नंबर

इसके अलावा NMC ने राहत देते हुए MBBS कोर्स में कुछ बदलाव भी किए हैं। मेडिकल छात्रों को अब सिर्फ परीक्षा और प्रैक्टिकल ही नहीं, बल्कि इसके अलावा मरीजों के साथ उनके व्यवहार के आधार पर भी अंक दिए जाएंगे। इससे मरीज-डॉक्टर के बिगढ़ रहे संबंध सुधर सकेंगे। इस फैसले के अनुसार ही हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज ने MBBS छात्रों को बेहतर प्रशिक्षण देने का निर्णय लिया है। प्रोफेसरों को भी उचित प्रशिक्षण दिया जा रहा है ताकि वे छात्रों को उचित प्रशिक्षण दे सकें। यह एक प्रयास है कि छात्र डॉक्टर बनकर अच्छे इंसान भी बनें।

Related posts

ड्रोन के जरिए मानव अंग अस्पताल तक पहुंचाने की तैयारी

admin

सूअर की किडनी लगा बंदर दो साल से जिंदा

admin

खतरनाक : समुद्री कचरे में 50 प्रतिशत Single use प्लास्टिक

admin

Leave a Comment