स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

75 दिवसीय सागर स्वच्छता अभियान का समापन 17 सितंबर को

नयी दिल्ली। आजादी के अमृत वर्ष के अवसर पर 5 जुलाई को शुरू हुए 75 दिवसीय सागर स्वच्छता अभियान का समापन 17 सितंबर को अंतरराष्ट्रीय तटीय स्वच्छता दिवस के अवसर पर हो रहा है। महासागरों की स्वच्छता के महत्व को रेखांकित करने और उसके बारे में जागरूकता के प्रचार-प्रसार के लिए शुरू किये गए ‘स्वच्छ सागर, सुरक्षित सागर’ अभियान के समापन से जुड़े कार्यक्रम एक साथ देश के 75 समुद्र तटों पर आयोजित किए जाएंगे। केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. जितेंद्र सिंह मुंबई में स्वयं समापन कार्यक्रम का नेतृत्व करेंगे।

मिला भरपूर समर्थन

देश की 7500 किलोमीटर लंबी तटरेखा से कचरा हटाने के लिए शुरू किए गए इस अभियान को विभिन्न क्षेत्रों की हस्तियों का समर्थन मिला है। डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा है कि यह अभियान सरकारी दृष्टिकोण के साथ-साथ अब पूरे देश की भागीदारी के चरण में प्रवेश कर गया है। उन्होंने कहा कि यह अभियान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दृष्टिकोण के अनुकूल है। प्रधानमंत्री ने भारत के तटों को साफ रखने पर जोर दिया है और हाल में मुंबई के जुहू समुद्र तट से कचरा हटाने के स्वयंसेवकों के प्रयासों की प्रशंसा की है।

डॉ. जितेंद्र सिंह जुहू तट पर करेंगे नेतृत्व

स्वच्छ सागर, सुरक्षित सागर अभियान से जुड़ने के लिए ‘इकोमित्रम’ ऐप पर 50 हजार से अधिक लोगों ने पंजीकरण कराया है। हर दिन हजारों की संख्या में लोग सागर सफाई से जुड़े जागरूरता अभियानों और अन्य रचनात्मक गतिविधियों में शामिल होने के साथ-साथ तटों की सफाई में भी सीधे तौर पर हिस्सा ले रहे हैं। कई राज्यों के मुख्यमंत्री, राज्यपाल, फिल्मी और खेल जगत की हस्तियां, नागरिक समाज समूह और सिविल सोसायटी समूह इस अभियान को पूर्ण समर्थन दे रहे हैं। 17 सितंबर को मुंबई के जुहू तट पर डॉ. जितेंद्र सिंह अभियान का नेतृत्व करेंगे जहाँ महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, सांसद पूनम महाजन और अन्य प्रसिद्ध हस्तियां तथा गैर सरकारी संगठन अभियान में शामिल होंगे।

विशिष्ट जन लेंगे हिस्सा

केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान पुरी समुद्र तट, पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रताप चंद्र सारंगी चांदीपुर, सांसद सुश्री लॉकेट चटर्जी दीघा, आरके मिशन प्रमुख दक्षिणी बंगाल के बक्खाली, गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्रभाई पटेल पोरबंदर (माधवपुर), केंद्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला जाफराबाद, गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत और गोवा के राज्यपाल पी. एस. श्रीधरन पिल्लई दक्षिण एवं उत्तरी गोवा समुद्र तट, केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान कोच्चि और विदेश राज्य मंत्री वी. मुरलीधरन कोवलम, कर्नाटक के राज्यपाल थावरचंद गहलोत मैंगलोर के पनम्बुर, सूचना और प्रसारण राज्य मंत्री एल मुरुगन चेन्नई और मिजोरम के राज्यपाल डॉ के. हरि बाबू विजाग तट पर अभियान में शामिल होंगे।

इंडिया साइंस वायर से साभार

Related posts

जानिए आपके राज्य का क्या है कोरोना हेल्पलाइन

Ashutosh Kumar Singh

BCCI ने IPL मैच में कैंसर और थैलेसीमिया रोगियों की मेजबानी की

admin

अब तक बने 30 करोड़ आयुष्मान कार्ड

admin

Leave a Comment