स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

सुप्रीम कोर्ट में खुला आयुष इंटीग्रेटेड सेंटर

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। सुप्रीम कोर्ट में अब इंसाफ के साथ वहां के जजों से लेकर स्टाफ तक को आयुष इलाज भी मिलेगा। वकील, मुंशी और अदालत का कोई भी स्टाफ सिर्फ 10 रुपये की फीस में आयुर्वेद की पंचकर्म चिकित्सा से लेकर आयुर्वेदिक थेरेपी, मसाज आदि करा सकेंगे। दिल्ली के आयुर्वेदिक अस्पताल ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद ने यहां पहला आयुष समग्र कल्याण केंद्र खोला है।

यह तीसरा इंटीग्रेटेड सेंटर

AIIA की निदेशक वैद्य तनुजा नेसरी ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट और AIIA के संयुक्त प्रयास से आयुष होलिस्टिक वेलनेस सेंटर खोला गया है। यह सभी जजों और सुप्रीम कोर्ट कर्मचारियों को फिजिकल, मेंटल और इमोशनल स्वास्थ्य के क्षेत्र में होलिस्टिक केयर प्रदान करेगा। AIIA इसी तरह का इंटीग्रेटेड सेंटर सफदरजंग अस्पताल दिल्ली, आईआईटी दिल्ली और गोवा में खोल चुका है।

पीएम की तारीफ की

इसका उद्धाटन मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति डी. वाई. चंद्रचूड़ और आयुष मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने किया। इस दौरान महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के राज्य मंत्री डॉ. मुंजपारा महेंद्रभाई कालूभाई भी मौजूद रहे। चंद्रचूड़ ने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कि उन्होंने कोविड पीड़ित होने पर कहा था कि एक वैद्य हैं जो आयुष में सचिव भी हैं और मैं उनके साथ एक कॉल की व्यवस्था करूंगा जो आपको दवा और सब कुछ भेज देंगे। मैंने आयुष से दवा ली। दूसरी और तीसरी बार जब मुझे कोविड हुआ, तो मैंने बिल्कुल भी एलोपैथिक दवा नहीं ली।

Related posts

One day workshop organized on drug trafficking

admin

YVK to host Heritage Fest-2023 from November 23

admin

स्वस्थ भारत यात्रा-2 बंगलुरु

Ashutosh Kumar Singh

Leave a Comment