स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

जम्मू को मिला एम्स का तोहफा

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जम्मू के विजयनगर में एम्स का उद्घाटन किया। इसकी स्थापना प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (PMSSY) के तहत हुई है। यह पांच साल में बनकर तैयार हुआ है। इसके OPD में रोज दो से तीन हजार रोगी इलाज के लिए पहुंच सकते है।

50 विभाग होंगे यहां

पहले चरण में 750 बेड, ट्रॉमा देखभाल, सामान्य देखभाल और सुपर-स्पेशलिटी के लिए 193 ICU बेड होंगे। एम्स जम्मू की योजना लगभग 50 विभागों को शामिल करने की है। इसमें न्यूक्लियर मेडिसिन, 20 मॉड्यूलर OT, MRI और CT स्कैन जैसी उन्नत सुविधाएं हैं। 30 बेड के साथ दो मंजिला आयुष ब्लॉक भी है। एक हेलीपैड भी उपलब्ध कराया गया है। यहां MBBS के लिए प्रत्येक वर्ष 100 छात्र और नर्सिंग के लिए 60 छात्र प्रवेश ले सकते हैं। यह भविष्य में मेडिकल, डेंटल, नर्सिंग, सुपर स्पेशलाइजेशन प्रोग्राम, पीएचडी डिग्री और अन्य में PG कार्यक्रम भी शुरू करेगा।

227 एकड़ में फैला एम्स

NH 44 के किनारे 226.84 एकड़ में फैला यह अस्पताल सबसे बड़े और सबसे सुरम्य परिसरों में से एक है। परिसर पर्यावरण मैत्री को प्राथमिकता देता है। इसे सौर पैनल प्रणाली, सीवेज उपचार संयंत्र और 13,500 पेड़ों और पांच लाख झाड़ियों के रोपण के साथ एकीकृत आवास मूल्यांकन (GRIHA) के लिए 4 स्टार ग्रीन रेटिंग के लिए विकसित किया जा रहा है।

ये होंगी सुविधाएं

एम्स जम्मू की प्रमुख बुनियादी सुविधाओं में अत्याधुनिक प्रोजेक्शन सिस्टम, ऑडियो-विजुअल सिस्टम और एक हजार लोगों की बैठने की क्षमता वाला एक कन्वेंशन सेंटर, 216 परिचारकों के लिए एक नाइट शेल्टर, बहुमंजिला स्टाफ आवास, हॉस्टल, स्पोर्ट्स क्लब, क्रिकेट स्टेडियम, बास्केटबॉल और लॉन टेनिस कोर्ट, स्क्वैश कोर्ट, 3284 कारों के लिए सतही पार्किंग और 26 मेहमानों के लिए एक गेस्ट हाउस शामिल हैं।

Related posts

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में नसबंदी के बाद 8 महिलाओं की मौत, चार अधिकारी निलंबित

Ashutosh Kumar Singh

शराब बंदी का साइड इफ्फेक्ट: बिहार में नशीले कफ सीरप का बढ़ सकता है कारोबार…

Ashutosh Kumar Singh

Study : IT सेक्टर के कर्मियों में ज्यादा हेल्थ रिस्क

admin

Leave a Comment