स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

कोरोना के बढ़ते मामलों पर केंद्र चिंतित, सतर्कता की सलाह

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। पिछले कुछ हफ्तों के दौरान COVID मामलों में वृद्धि की रिपोर्ट करने वाले राज्यों को सावधानी और निरंतर सतर्कता बरतने की सलाह दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने 14 ऐसे राज्यों के साथ एक वीडियो कॉन्फ्रेंस (VC) के माध्यम से COVID स्थिति की स्थिति की समीक्षा की। बैठक में नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ विनोद पॉल भी मौजूद थे।

सक्रिय निगरानी की जरूरत

डॉ. पॉल ने जोर देकर कहा कि 9 जून को जारी संशोधित निगरानी रणनीति के अनुसार सक्रिय निगरानी को मजबूत करने पर ध्यान केंद्रित करना प्रमुख कार्रवाई बिंदु है। नियमित निगरानी हमारी COVID प्रतिक्रिया और प्रबंधन रणनीति के फ्रेम का गठन करती है और इस पर निरंतर ध्यान देने की आवश्यकता है। अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की निगरानी से लेकर समुदाय आधारित निगरानी, स्वास्थ्य सुविधा और प्रयोगशाला-आधारित निगरानी और संपूर्ण जीनोम अनुक्रमण पर ध्यान देना होगा। राज्यों को सभी जिला अस्पतालों, प्रमुख निजी अस्पतालों और जिलों के मेडिकल कॉलेजों से उन क्षेत्रों पर कड़ी नजर रखनी होगी जहां ये उभर रहे हैं।

टीकाकरण में तेजी लायें

बैठक में विशेष रूप से 60+ बुजुर्ग आबादी के टीकाकरण और 12-17 जनसंख्या समूह के बीच दूसरी खुराक में तेजी लाने की सलाह दी गई थी। हर घर दस्तक 2.0 अभियान को COVID वैक्सीन को तेज करने के लिए एक मजबूत धक्का की आवश्यकता है। पॉल और केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव दोनों ने राज्यों में COVID परीक्षण के निम्न स्तर और RTPCR शेयर में गिरावट पर प्रकाश डाला।

Related posts

40 डिजिटल स्वास्थ्य सेवा ऐप ABDM में शामिल

admin

कोविड अभी समाप्त नहीं हुआ, रहें सतर्क : मांडविया

admin

Know Your New Health Minister J.P.Nadda

Ashutosh Kumar Singh

Leave a Comment