स्वस्थ भारत मीडिया
काम की बातें कोविड-19

ऑफिस में कैसे रहे कोरोना से सावधान

office-social-distancing

कोरोना के संग जीना ही होगा। इसी कड़ी में देश में दफ्तर खुलने लगे हैं। ऐसे में सावधानियां भी बरतनी जरूरी है। इन्हीं बिन्दुओं पर प्रीति पांडेय की खास रिपोर्ट

वरिष्ट पत्रकार

नई दिल्ली/एसबीएम

विश्व भर में कोरोना के कारण लाखों लोगों की जान चली गई है, भारत में भी इसका असर अपने चरम पर है। यह बात आप सभी अच्छे से जानते हैं। एक माह से अधिक लॉकडाउन के बाद सरकार ने लॉकडाउन 3.0 में कुछ गाइडलाइन के साथ काफी संख्या में ऑफिस और अन्य कुछ जरूरी संस्थाएं खोलने की छूट दे दी है। लेकिन सवाल यह उठता है कि जब भारत में कोरोना अपने चरम पर है ऐसे में यह छूट सरकार ने क्यों दी?

इसका जवाब बेहद आसान है कि अब हमें कोरोना के साथ ही अपनी दिनचर्या को ढालना होगा। आखिर कब तक हम घरों में बिना रोजी-रोजगार के रह सकते हैं?देश में इतनी भुखमरी है कि सरकार का यह निर्णय लेना जरूरी ही था और आखिर सरकार कब तक आपकी पहरेदारी करे। सरकार ने आपको सभी जानकारी से अवगत करा दिया है अब आपको उन सभी जानकारी के साथ ही आगे बढ़ना होगा। किसी भी चीज से डरने के बजाए उसका सामना करना होगा और अपने आपको मजबूत बनाना होगा।

 इसे भी पढ़ेंः कोरोना के संग-संग जीना सीखना होगा

बात केवल आने वाले कुछ दिनों या महिनों की नहीं है बल्कि आने वाले 1-2 वर्षों तक हमें अपनी और अपने आसपास की सुरक्षा को सुनिश्चित करते हुए काम करना होगा। वैसे तो साफ-सफाई रखना और सफाई से रहना बेसिक बातें होती हैं लेकिन इन बेसिक बातों की जानकारी होने के बाद भी लोग खाना खाने से पहले हाथ धोना, वाशरूम जाने के बाद हाथ धोना, कहीं बाहर से आने पर हाथ-पैर धोने, छींकते या खांसते समय मुंह को ढंकना आदि बातों को इतना महत्व नहीं देते थे लेकिन अब स्तिथि पूरी तरह से बदल चुकी हैं। कोरोना ने यह बेसिक चीजें सीखाने में काफी मदद की है। अपने आपकी और घर की सफाई का तो आप ख्याल रख सकते हैं लेकिन ऐसे हालात में जब आपको ऑफिस जाना हो तो आखिर आप अपने आपको कैसे सुरक्षित रखें जानने के लिए पूरी जानकारी पढ़ें –

लिफ्ट के इस्तेमाल से बचें

सार्वजनिक तौर पर इस्तेमाल होने वाली प्रत्येक वस्तु इस समय खतरनाक है लेकिन आपको फिर भी अपने काम के लिए बाहर निकलना पड़ रहा है तो कोशिश करें कि लिफ्ट का इस्तेमाल न करें यदि करना बहुत जरूरी है तो लिफ्ट के बटन न छुएं आप उन्हें कोहनी की मदद से, इयरबड से, टिश्यू पेपर से या ग्लव्ज पहनकर कर सकते हैं जिन्हें आपको बाद में डिसपोज करना होगा। उसके बावजूद हाथों को तुंरत सैनेटाइज या अच्छे से हाथों को धो लें।

यह भी पढ़ें उज्ज्वल भविष्य के लिए जरूरी है नई कार्य-संस्कृति अपनाना

सावधानी से करें सीढ़ियों का इस्तेमाल

किसी भी मल्टीलेवल बिल्डिंग में जाने के लिए आपको सीढ़ी या लिफ्ट का इस्तेमाल करना ही होता है अगर आप लिफ्ट का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं और सीढ़ियों का इस्तेमाल कर रहे हैं तो भी आपको सावधानी बरतनी होगी जैसे आपको बिना दीवार या सीढ़ियों की रेंलिंग को टच किए ही सीढ़ी चढ़नी होंगी। क्योंकि यह सार्वजनिक जगह होती है जहां आपसे पहले किस-किस व्यक्ति ने उनका टच किया हो और किसको क्या परेशानी हो यह बात कोई नहीं जानता।

हाथ हैं आपका हथियार

कोरोना वायरस में आपके हाथ ही आपका सबसे मजबूत हथियार हैं इसलिए अपने हाथों को हमेशा सुरक्षित रखें और अपनी सुरक्षा सुनिश्चित करें। हर घण्टे दो घण्टे के अंतराल में अपने हाथ धोते रहें। गलती से भी किसी से हाथ न मिलायें। अगर आपको किसी पब्लिक प्लेस पर जाना पड़ रहा है तो हाथों में ग्लव्स पहने और बावजूद उसके भी अपने हाथों को बीच-बीच में सेनेटाइज करते रहें। गीले हाथों को तुंरत टिशू से पौंछ कर सुखाएं। आप अपने हाथों से चेहरे को न छुएं। शाम में ग्लव्स को डिसपोस करना न भूलें।

ऑफिस में हर समय मास्क लगाकर रखें

फेस मास्क आपको हर हालत में लगा कर रखना है। चाहे आप ऑफिस में अंदर हों या बाहर। मास्क आपकी कई तरह से रक्षा करता है।

सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखें

ऑफिस में काम करते समय अपनी सिटिंग का बेहद ध्यान रखें। आपकी सिटिंग और किसी दूसरे व्यक्ति की सिटिंग में अच्छी खासी दूरी होनी चाहिए। लंच टाइम में कोशिश करें कि ग्रुप में खाना न खाएं अलग-अलग ही दूर-दूर बैठकर खाएं। किसी भी मीटिंग में 10 लोग से ज्यादा लोग न हों और उनके बैठने का स्थान भी दूर-दूर हो, यह बहुत जरूरी है। ऑफिस में एक साथ कहीं भी 5 लोग से ज्यादा एकत्रित न हों। उचित दूरी बनाकर ही ऑफिस में काम करें।

इसे भी पढ़ेंःकोविड-19: प्रकृति केन्द्रित विकास है समाधान

अटेंनडेंस

बायोमैट्रिक पचिंग तो इस समय सभी जगह बंद है लेकिन हाजरी लगाने के जो अन्य तरीके हैं जैसे रजिस्टर में एन्ट्री करना आदि में भी हमें सावधानी बरतनी होगी बजाए सभी अपनी-अपनी एन्ट्री करें उससे अच्छा किसी एक व्यक्ति की डयूटी लगाई जाए, जो सभी की एन्ट्री करे ताकि सभी उस रजिस्टर को न छुएं।

अपने द्वारा इस्तेमाल होने वाले प्रत्येक सामान को रोजाना ही सेनेटाइज करें

ऑफिस में अपने डेस्क पर आप हर उस चीज को रोजना सेनेटाइज करें जो आप इस्तेमाल करते हैं। जैसेः- आपका की-बार्ड, माउस, आपकी वाटर बोतल, इंटरकॉम और आपकी चेयर आदि सामान। आपकी उनुपस्थिति में सफाई करने के दौरान अक्सर यह सामान हाउस कीपिंग स्टाफ द्वारा टच हो ही जाता है इसलिए अपने स्तर की सफाई करना आपकी स्वयं की जिम्मेदारी है।

डॉक्यूमेंट्स सेनेटाइजेशन

ऑफिस में आजकल भी पेपर के माध्यम से ही डॉक्यूमेंटेशन का काम होता है ऐसे में एक डॉक्यूमेंट एक से दूसरे व्यक्ति को जाता है इसलिए समय-समय पर न केवल इनका सेनेटाइजेशन होना चाहिए बल्कि आपको भी कोई भी डॉक्यूमेंट हाथ में लेने से पहले अपने हाथों को सेनेटाइज करना चाहिए और उसके इस्तेमाल के बाद भी।

दरवाजों को खोल कर रखें

आजकल ज्यादातर ऑफिस स्मार्ट ऑफिस होते हैं ऐसे में सभी जगह डोर्स पुश या पुल के द्वारा ही खुलते हैं पुश करने वाले दरवाजे तो आप एक बार को कोहनी से खोल सकते हैं लेकिन पुल करने के लिए आपको हाथ का इस्तेमाल करना ही होगा इसलिए ऐसे दरवाजे खुले ही रहने दें अगर ऐसा करना संभव नहीं है तो आप इन्हें खोलते समय टीशू पेपर का इस्तेमाल करें।

 

 

Related posts

इस पड़ोसी देश से सीखें कोरोना से जीतने की तरकीब

भारत में बढ़ रहा है कोरोना वायरस की जीनोम सीक्वेंसिंग का आंकड़ा

खुशखरीः कोविड-19 से ऐसे लड़ेंगे डॉक्टर

Leave a Comment