स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

स्वास्थ्य कर्मियों के लिए बीमा योजना की अवधि 180 दिन और बढ़ी

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज (पीएमजीकेपी), कोविड-19 से लड़ने वाले स्वास्थ्य कर्मियों के लिए बीमा योजना‘ की अवधि 19 अप्रैल, 2022 से 180 दिन और बढ़ा दी गई है। ऐसा निर्णय इसलिए लिया गया है ताकि उन स्वास्थ्य कर्मियों के आश्रितों के लिए सुरक्षा कवच उपलब्ध कराना जारी रखा जा सके जो कोविड-19 रोगियों की देखभाल के लिए प्रतिनियुक्त हैं।

केंद्र सरकार का फैसला

इस आशय का एक पत्र दिनांक 19 अप्रैल, 2022 को सभी राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के अपर मुख्य सचिवों (स्वास्थ्य), प्रधान सचिवों (स्वास्थ्य), सचिवों (स्वास्थ्य) को उनके संबंधित राज्यों-केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य कर्मियों के बीच व्यापक प्रचार करने के लिए जारी किया गया है। पीएमजीकेपी को 30 मार्च, 2020 को सामुदायिक स्वास्थ्य कर्मियों और निजी स्वास्थ्य कर्मियों सहित उन 22.12 लाख स्वास्थ्य देखभाल प्रदाताओं को 50 लाख रुपये का व्यापक व्यक्तिगत दुर्घटना कवर प्रदान करने के लिए लॉन्च किया गया था, जो कोविड-19 रोगियों की देखभाल कर रहे हैं और सीधे संपर्क में रहे हैं तथा जिन्हें कोविड-19 से प्रभावित होने का खतरा हो सकता है।

हर स्वास्थ्यकर्मियों को लाभ

इसके अलावा अप्रत्याशित स्थिति के कारण राज्यों-केंद्रीय अस्पतालों, केंद्र-राज्यों-केंद्र शासित प्रदेशों के स्वायत्त अस्पतालों, एम्स और राष्ट्रीय महत्व के संस्थानों-अस्पतालों में कोविड-19 रोगियों की देखभाल के लिए केंद्रीय मंत्रालयों के अस्पतालों द्वारा विशेष रूप से तैयार अस्पतालों द्वारा अधिग्रहण किए गए निजी अस्पताल के सभी तरह के कर्मचारी पीएमजीकेपी के अंतर्गत आते हैं। योजना के शुभारंभ के बाद से अब तक उन 1905 स्वास्थ्य कर्मियों के दावों का निपटारा किया जा चुका है जिनकी कोविड संबंधित कार्यों के लिए तैनात किए जाने के दौरान मृत्यु हो गई थी।

Related posts

AIOCD को लगा झटका, फार्मासिस्ट उतरे बंद के विरोध में

Ashutosh Kumar Singh

CSIR lab to reach out north-east villages through entrepreneurship drive

Ashutosh Kumar Singh

झारखंड में गंगा संरक्षण के लिए ग्रामीण स्वच्छता पहल का शुभारंभ

Leave a Comment