स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

सूअर की किडनी लगा बंदर दो साल से जिंदा

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। डॉक्टरों ने दो साल पहले एक बंदर को सूअर की किडनी लगाई थी। वह आज भी जीवित और सही सलामत है। रिपोर्ट के मुताबिक इतने लंबे समय तक इंटर स्पीशीज में अंग ट्रांसप्लांट करने के बाद किसी जानवार का जिंदा रहना एक रिकॉर्ड है। इस उपलब्धि से पशु के अंगों का उपयोग कर जीवन रक्षक मानव अंगों की कमी को दूर करने का लक्ष्य भी हासिल हो सकता है। हालांकि मानव और  पशुओं की शारीरिक संरचना में बड़ा फर्क है सो इस दिशा में और स्टडी करनी होगी।

कैंसर की दवा मलेरिया को रोकेगी

एक क्लीनिकल ट्रायल से पता चला है कि कैंसर के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवा सपनिसर्टिब मलेरिया पर भी काबू करेगी। अगर सब कुछ ठीक रहा तो आने वाले दिनों में यह दवा बाजार में उपलब्ध हो जाएगी। केप टाउन विश्वविद्यालय के विशेषज्ञों के नेतृत्व में यह शोध हुआ है। परीक्षणों से पता चला है कि कैंसर के इलाज में इस्तेमाल की जाने वाली दवाओं में मलेरिया को रोकने, इलाज करने की क्षमता होती है। यह दवा स्तन कैंसर, एंडोमेट्रियल कैंसर, ग्लियोब्लास्टोमा, रीनल सेल कार्सिनोमा और थायरॉइड कैंसर जैसे ट्यूमर के इलाज के लिए इस्तेमाल की जाती है।

अनिवार्य सेवा न दी तो डॉक्टरों पर भारी जुर्माना

झारखंड के मेडिकल कॉलेजों से पीजी करने वाले डॉक्टरों को बांड आधारित तीन साल की अनिवार्य सेवा के तहत विभिन्न मेडिकल कॉलेजों में बतौर सीनियर रेजीडेंट तैनात किया जाएगा। ऐसा नहीं करने पर लगभग 60 लाख रुपए का जुर्माना भरना होगा। प्रावधान के अनुसार पढ़ाई पूरी करने के बाद छह माह के अंदर यदि सरकार इन्हें तैनात नहीं करती है तो ये बांड से मुक्त हो जाएंगे। पीजी का रिजल्ट पिछले माह ही आ चुका है। इसलिए तैनाती की पक्रिया चल रही है।

Related posts

Researchers reveal how cyclone ‘Tauktae’ overtopped Kerala coast

admin

दिल्ली चुनाव में स्वास्थ्य होगा मुख्य मुद्दा!

Ashutosh Kumar Singh

भारत के आठवें अंतरराष्ट्रीय विज्ञान फिल्म पुरस्कार घोषित

admin

Leave a Comment