स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

मंकीपॉक्स ग्लोबल पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित 

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। आखिरकार विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने करीब 80 देशों में फैले मंकीपॉक्स को ग्लोबल पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर दिया है। WHO प्रमुख टेड्रोस एडनॉम घेब्रेयसस ने बताया कि अभी तक मंकीपॉक्स के 17 हजार से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। वैसे यूरोपीय क्षेत्रों में अधिक जोखिम का आकलन किया गया है। वायरस के दशकों तक अफ्रीकी महाद्वीप तक सीमित रहने के बाद मई से यह उन देशों में भी पैर पसारने लगा है जहां इसका नामोनिशान नहीं था।

यूरोप में सर्वाधिक मरीज

उन्होंने कहा कि इसका ट्रांसमिशन नए-नए तरीकों के जरिए हो रहा है, जिसके बारे में हमे बहुत कम जानकारी है। इसी को ध्यान में रहते हुए संगठन ने मंकीपॉक्स को पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित करने का फैसला किया है। Monkeypox meter के मुताबिक यूरोप में 12396, उत्तरी अमेरिका में 3520, दक्षिणी अमेरिका में 944, एषिया में 140, अफ्रीका में 36, ओसियाना में 43 मरीज मिले हैं।

चेचक का टीका रोक सकेगा

यूरोपियन मेडिसिन्स एजेंसी  ने कहा कि बवेरियन नॉर्डिक की ओऱ से बनाए गए चेचक के टीके को मंकीपॉक्स के खिलाफ इस्तेमाल के लिए भी अधिकृत किया जाए। यूरोपीय संघ के दवा नियामक ने कहा कि इसकी सिफारिश जानवरों के अध्ययन पर आधारित है, जो सुझाता है कि टीका गैर-मानव प्राइमेट को मंकीपॉक्स से बचाता है।

Related posts

विनोबा को श्रद्धांजलि देकर संपन्न हुई 21 हजार किमी लंबी स्वस्थ भारत यात्रा-2

Ashutosh Kumar Singh

विषाणु रहित आलू बीज उत्पादन के लिए ग्वालियर में बनेगी लैब

admin

समुद्री तटों से कचरा हटाने का महाअभियान 3 जुलाई से

admin

Leave a Comment