स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार

बिलासपुर में फार्मासिस्टों की आपात बैठक

20 सितम्बर को होटल अजीत में होगी बैठक, सैकड़ों सदस्यों की पहुंचने की उम्मीद

अश्वनी गुरदेकर
अश्वनी गुरदेकर

बिलासपुर / गैर क़ानूनी तरीके से चलाये जा रहे मेडिकल दुकान को लेकर छत्तीसगढ़ फार्मासिस्ट एसोसिएशन का आंदोलन एक बार फिर से तुल पकड़ता जा रहा है। पिछले दिनों बिलासपुर में केमिस्ट और फार्मासिस्ट संगठनों के बीच तीखी नोक-झोक हुई थी। केमिस्ट संगठन के अध्यक्ष सुभाष अग्रवाल द्वारा जान से मारने की धमकी के बाद फार्मासिस्ट उग्र हो उठे थे और जिलाधिकारी का घेराव किया था । बिलासपुर के कलेक्टर ने कार्रवाई के संकेत दिए थे। हफ्ते भर बाद भी कोई कदम नहीं उठाये जाने से छत्तीसगढ़ के फार्मासिस्टों का आक्रोश फिर उभर कर आया है। छत्तीसगढ़ के फार्मासिस्ट दवा दुकानों में फार्मासिस्ट की उपस्थिति की मांग पर अड़े हैं, वही दूसरी तरफ औषधि नियंत्रण विभाग कार्रवाई में आनाकानी कर रहा है।  छत्तीसगढ़ फार्मासिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष अश्विनी गुरदेकर ने 20 सितम्बर को होटल अजीत में एसोसिएशन के सदस्यों की आपात बैठक बुलाई है जिसमे आगे की रणनीति पर चर्चा होगी !

Related posts

होमियोपैथिक चिकित्सकों ने सरकार से मांगा कोरोना ईलाज का अधिकार

केन्द्र सरकार की अपील, स्वास्थ्य मद में अपने बजट का 8 फीसद खर्च करें राज्य सरकार

आशुतोष कुमार सिंह

बिलासपुर नसबंदी मामलाःफार्मासिस्ट करेंगे स्वास्थ्य मंत्री का घेराव!

swasthadmin

Leave a Comment