स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार

28 सितंबर को लखनऊ में फार्मासिस्टों की महारैली

Pharmacist Foundation

ड्रग लाइसेंस घोटाले की सीबीआई जांच की मांग


लखनऊ/ 
यूपी के चर्चित ड्रग लाइसेंस घोटाले की सीबीआई जांच की माग जोर पकड़ने लगी है। इस घोटाले से पर्दा उठाने के लिए देश भर के फार्मासिस्ट आंदोलन के मूड में हैं। इसी संदर्भ में यूपी की संस्था फार्मासिस्ट फाउंडेशन ने 28 सितम्बर को लखनऊ में एक महारैली का आयोजन करने जा रही है। इस बावत संस्था के अध्यक्ष अमित श्रीवास्तव ने बताया कि, सुबह 10 बजे ग्लोब पार्क से रैली शुरू होगी जो एफडीए होते हुए मेडिकल चौक तक जायेगी।उन्होंने आगे बताया कि प्रदेश स्तरीय रैली में यूपी समेत राजस्थान, झारखण्ड बिहार, छत्तीसगढ़ समेत अन्य राज्यों के फार्मासिस्ट संगठन भी सिरकत कर रहे हैं!
अमित ने बताया की पूरे राज्य में 60 हज़ार फार्मासिस्ट हैं जिनमें करीब 15 हजार सरकारी अस्पतालों में अलग-अलग पदों पर कार्यरत हैं। जबकि दवा दुकानों की संख्या दोगुनी से भी ज्यादा है । यूपी फ़ूड एंड ड्रग डिपार्टमेंट पूरी तरह भ्रष्टाचार में डूबा हुवा है । नतीज़तन ड्रग एंड कॉस्मेटिक एक्ट और फार्मेसी एक्ट जैसे कानून का अस्तित्व ही मिट गया है । विगत दो वर्षों से फार्मासिस्ट अपने हक़ और अधिकार की लड़ाई लड़ रहे है । कई बार सरकार को स्थिति से अवगत कराया गया पर इस दिशा में संतोषप्रद काम नहीं हो पाया है।  हम चाहते हैं कि इस घोटाले की जांच सीबीआई करे। इस बीच इस रैली को स्वस्थ भारत अभियान का भी समर्थन प्राप्त हो चुका है।
 

Related posts

स्वास्थ्य महकमे को मिला ‘स्वस्थ मंत्री’

गांधी का ग्राम स्वराज पूरी तरह से लागू होना बाकी: राम बहादुर राय

swasthadmin

14000 किमी की दूरी तय कर लखनऊ पहुँची यात्रा

Leave a Comment