स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार

जनऔषधि केन्द्र खोलने पर ढाई लाख रुपये का इंसेंटिव

नई दिल्ली/5.06.18
जो युवा, उद्यमी, फार्मासिस्ट जनऔषधि केन्द्र खोलना चाहते हैं उनके लिए खुशखबरी है। उनको सरकार ढाई लाख रुपये का इंसेंटिव देगी। यह इंसेंटिव उन्हें 10000 रुपये प्रति माह के हिसाब से 25 महीने तक दी जायेगी। उक्त बाते रसायन एवं उर्वरक राज्य मंत्री मनसुख भाई मांडविया ने पीआईबी सेंटर में आयोजित एक प्रेस वार्ता में कही। उन्होंने कहा कि जो उद्यमी, फार्मासिस्ट, युवा जनऔषधि केन्द्र खोलकर लोगों को सस्ती दवाइयां पहुंचाना चाहते हैं उनके संस्टनेबिलिटी के लिए यह जरूरी है कि उनको कुछ समय तक सहयोग किया जाए ताकि वे बाजार में खुद को स्थापित कर सके।
जनऔषधि खोलने वालों को होने वाले लाभ के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि, बीपीपीआई द्वारा उपलब्ध कराई जा रही जनऔषधि की दवाइयों पर उन्हें 20 फीसद का फायदा होगा। केन्द्र खोलने को इच्छुक लोगों से उन्होंने कहा कि बीपीपीआई की वेबसाइट पर जनऔषधि केन्द्र खोलने के लिए एक छोटा सा फार्म दिया गया है। उसे आप डाउनलोड कर के बताए पते पर प्रेषित कर सकते हैं।
विश्व पर्यावरण दिवस के पूर्व संध्या पर आयोजित प्रेसवार्ता में रसायन एवं उर्वरक मंत्री ने ‘जनऔषधि सुविधा’ नाम से सैनिटरी पैड को भी लॉच किया।  ढाई रुपये प्रति पैड इसकी कीमत रखी गयी है। 10 रुपये में एक पैकेट मिलेगा जिसमें 4 पैड रहेंगे। इस पैड को पर्यावरण के अनुकूल बनाया गया है।

Related posts

मन की बात कार्यक्रम में बोले प्रधानमंत्री, भारतीय चिकित्सकों ने पूरी दुनिया में अपनी की पहचान कायम की है

swasthadmin

झारखंड में गंगा संरक्षण के लिए ग्रामीण स्वच्छता पहल का शुभारंभ

swasthadmin

आत्महत्या कर रहे हताश-निराश-मजबूर मजदूरों को समझना-समझाना जरूरी

Leave a Comment