स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

वैज्ञानिकों को मिला कैंसर को रोकने वाला प्रोटीन

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। स्तन कैंसर में मेटास्टेसिस (शरीर के दूसरे हिस्सों में फैलने की प्रक्रिया) रोकने या शुरू करने वाले प्रोटीन ENPP1 की अमेरिकी वैज्ञानिकों ने खोज की है। उनका दावा है कि इससे कैंसर पीड़ित लोगों को ज्यादा प्रभावशाली इम्यूनोथेरेपी देने में मदद मिलेगी। यह जानने में भी मदद मिलेगी कि दी जा रही दवा व इलाज कैसा काम कर रहे हैं। इसकी पहचान स्टेनफोर्ड विश्वविद्यालय में लिंगयिन ली की टीम ने की। उन्हें इससे इम्यूनोथेरेपी और मेटास्टेसिस रोकने में मदद मिली। उनका अध्ययन प्रोसीडिंग्स ऑफ नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेस में प्रकाशित हुआ है।

यहां मिल रहा कैंसर का फ्री उपचार

कैंसर जैसी घातक बीमारी की इलाज बहुत महंगा पड़ता है। कम पैसे वाले लोग इलाज के अभाव में दम तोड़ देते हैं। उनके लिए कई ऐसे अस्पताल और चैरिटेबल संस्थायें हैं जहां फ्री या कम खर्चे में इलाज की सुविधा है। इनमें मुबई का टाटा मेमोरियल ट्रस्ट प्रमुख है। इसके अलावा जालंधर का वर्ल्ड कैंसर केयर चैरिटेबल सोसायटी फ्री में 18 सालों से कैंसर का इलाज करवाती है। एक नाम बीइंग ह्यूमन का भी है। 2013 में इस संस्था ने द लिटिल हार्ट्स प्रोग्राम लॉन्च किया था जिसमें जन्मजात हृदय दोष वाले वंचित बच्चों को मुफ्त इलाज प्रदान किया जाता है। मुंबई का द इंडियन कैंसर सोसायटी भी 1951 से यह काम कर रही है।

बच्चे दे रहे कैंसर को मात

भारत में हर साल बच्चों में 70 हजार कैंसर के मामले सामने आते हैं जिसमें अमूमन 400 का इलाज दिल्ली एम्स में किया जाता है। उसका दावा है कि इनमें 75 से 80 प्रतिशत बच्चे ऐसे हैं जो पूरी तरह से ठीक हो जाते हैं। हाल ही में एम्स के कैंसर स्पेशलिस्ट डॉक्टरों ने चाइल्डहुड कैंसर स्पेशलिस्ट डे के अवसर पर यह जानकारी दी। ऐसे स्वस्थ हुए बच्चों के लिए वहां एक साप्ताहिक सर्वाइवर क्लिनिक चलता है जहां उन के विकास, सामाजिक मुद्दे, शिक्षा, साइडइफेक्ट्स आदि पर भी गौर किया जाता है।

Related posts

भारत के पास पोर्टेबल अस्पताल भी

admin

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस से पहले योग उत्सव आयोजित

admin

चंद्रयान की टेक्नोलॉजी ने नासा को भी ललचाया

admin

Leave a Comment