स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

पूर्वोत्तर का पहला नेचुरोपैथी संस्थान डिब्रूगढ़ में बनेगा

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। आयुष मंत्री सर्बानंद सोनोवाल और असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने पूर्वाेत्तर में डिब्रूगढ़ में पहले योग और प्राकृतिक चिकित्सा अस्पताल की नींव रखी। केंद्रीय योग और प्राकृतिक चिकित्सा अनुसंधान संस्थान (CRIYN) में लगभग सौ करोड़ का निवेश किया जाएगा। सौ बिस्तरों वाले अस्पताल के साथ यह संस्थान 15 एकड़ में फैला होगा।

मानक स्थापित करेगा संस्थान

इस मौके पर आयुष मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा कि यह संस्थान योग और प्राकृतिक चिकित्सा के पारंपरिक ज्ञान और प्रौद्योगिकी के आधुनिक उपकरणों के बीच वैज्ञानिक रूप से वैध और उपयोगी तालमेल लाने के लिए बनाया जा रहा है। यह शिक्षा, निवारक स्वास्थ्य देखभाल और योग और प्राकृतिक चिकित्सा में अनुसंधान में बेंचमार्क मानक स्थापित करेगा। उन्होंने कहा कि इसे भारत में हृदय रोगों के लिए योग और प्राकृतिक चिकित्सा में उत्कृष्टता केंद्र के रूप में विकसित किया जाएगा और गैर-संचारी रोगों के प्रबंधन के लिए प्रोटोकॉल विकसित किया जाएगा।

ये सुविधायें होंगी

रिपोर्ट के मुताबिक CRIYN आंतरिक रोगी, बाह्य रोगी और डेकेयर सेवाएं प्रदान करेगा। आयुष अधिकारियों ने कहा कि केंद्र द्वारा दी जाने वाली सेवाएं प्राकृतिक चिकित्सा आहार और पोषण, योग चिकित्सा, मालिश और जोड़-तोड़ चिकित्सा, एक्यूप्रेशर, एक्यूपंक्चर, क्रोमो थेरेपी, मैग्नेटो थेरेपी, फिजियोथेरेपी और हाइड्रोथेरेपी उपचार होंगी।

Related posts

भारतीय पेट्रोलियम संस्थान में स्थापित होगा कोविड-19 परीक्षण केंद्र

Ashutosh Kumar Singh

कोरोना के नये वैरिएंट से ब्रिटेन के बुजर्ग हो रहे शिकार

admin

गुवाहाटी में पारंपरिक चिकित्सा पर SCO सम्मेलन और Expo शुरू

admin

Leave a Comment