स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

गुवाहाटी में पारंपरिक चिकित्सा पर SCO सम्मेलन और Expo शुरू

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। केन्द्रीय आयुष मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के तहत पारंपरिक चिकित्सा पर पहले बी2बी वैश्विक सम्मेलन और एक्सपो का गुवाहाटी में उद्घाटन किया। 17 एससीओ (4 वर्चुअली) देशों और भागीदारों के 150 से अधिक प्रतिनिधियों ने समारोह में भाग लिया। श्री सोनोवाल ने यहां पारंपरिक चिकित्सा पर चार दिवसीय एक्सपो का भी उद्घाटन किया।

सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज का लक्ष्य

केन्द्रीय मंत्री ने कहा, भारत ने लोगों को स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने के साथ-साथ सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज का लक्ष्य प्राप्त करने के लिए आयुर्वेद और चिकित्सा की अन्य पारंपरिक प्रणालियों के जरिये उपलब्ध प्राकृतिक संसाधनों का सर्वाेत्तम उपयोग किया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन का पारंपरिक वैश्विक चिकित्सा (WHO-GCTM) केन्द्र भारत के सहयोग से जामनगर में स्थापित किया जा रहा है, जो सदस्य देशों को पारंपरिक चिकित्सा की शिक्षा और कार्य प्रणालियों को मजबूत करने के लिए अपने-अपने देशों में सक्षम कदम उठाने में मदद करेगा। समारोह में अन्य लोगों के अलावा केन्द्रीय आयुष राज्य मंत्री डॉ. महेन्द्रभाई मुंजपारा, म्यांमार के केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. थेट खिंग विन, मालदीव के उप स्वास्थ्य मंत्री साफिया मोहम्मद सईद और आयुष मंत्रालय में सचिव वैद्य राजेश कोटेचा शामिल हुए।

आयुष उत्पादों की गुणवत्ता पर फोकस

केन्द्रीय आयुष राज्य मंत्री, डॉ महेंद्रभाई मुंजपारा ने कहा, भारत ने शिक्षा की गुणवत्ता सुनिश्चित करने और आयुर्वेद, योग, यूनानी, सिद्ध, सोवा-रिग्पा और होम्योपैथी (आयुष) की कार्य प्रणालियों पर विशेष ध्यान दिया है। आयुष उत्पादों की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए कई नियामक प्रावधानों के साथ-साथ मान्यता तंत्र मौजूद हैं। भारत ने पारंपरिक चिकित्सा पद्धति और पाश्चात्य चिकित्सा पद्धति को एकीकृत करने के लिए देश की संपूर्णात्मक चिकित्सा नीति विकसित करने का बीड़ा उठाया है, जबकि उनका प्रशिक्षण, अनुसंधान और सुरक्षा सुनिश्चित किया है।

Related posts

11 करोड़ ग्रामीण परिवारों तक पहुंचा घर में नल का जल

admin

उपलब्धि: देश के 108 जिलों में पहुंचा हर घर जल

admin

सैन्य अस्पताल में मासूम का गैर-सर्जिकल ट्रांसकैथेटर ट्रांसप्लांट

admin

Leave a Comment