स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

टीबी मुक्त भारत अभियान की National Ambassador बनीं दीपा मलिक

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। पद्मश्री एवं खेल रत्न अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित भारत की पहली महिला पैरालंपिक पदक विजेता तथा भारतीय पैरालंपिक समिति की अध्यक्ष डॉ. (एचसी) दीपा मलिक ने क्षयरोग (TB) मुक्त भारत अभियान की राष्ट्रीय दूत और नि-क्षय मित्र बनकर इस अभियान को अपना समर्थन देने का संकल्प लिया है।

नि-क्षय मित्र बनने का आग्रह

भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला (IITF) 2022 में स्वास्थ्य मंडप का उन्होंने दौरा किया तथा टीबी से बचे लोगों के साथ बातचीत की। साथ ही उनसे नि-क्षय मित्र बनने का आग्रह किया। उन्होंने मार्च 2018 में टीबी मुक्त भारत अभियान के प्रति अपनी प्रतिबद्धता उस समय व्यक्त की, जब उन्होंने 41वें भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला में स्वास्थ्य मंत्रालय के मंडप में टीबी जागरूकता गतिविधियों में भाग लिया। उन्होंने राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु द्वारा शुरू की गई नि-क्षय मित्र बनकर अभियान को अपना समर्थन दिया। उन्होंने नि-क्षय मित्र के रूप में स्वयं 5 क्षय रोगियों को गोद लिया है।

2025 तक भारत को टीबी मुक्त करने का लक्ष्य

उन्होंने क्षय रोग से मुक्त हो जाने (टीबी सर्वाइवर) की अपनी कहानी को याद किया और कहा कि उपचार अवश्य शारीरिक है, लेकिन ठीक होने का पहला कदम मानसिक कल्याण के साथ शुरू होता है, सकारात्मक मानसिकता बनाए रखने और इस स्थिति के आसपास के कलंक से ऊपर उठने पर ध्यान केंद्रित करना होता है। उन्होंने जन आंदोलन में भाग लेकर 2025 तक भारत को टीबी मुक्त बनाने के लिए गति प्रदान करने में अपना योगदान देने का आग्रह किया।

Related posts

चीनी का विकल्प तैयार करने की नई तकनीक विकसित

admin

गांधी का ग्राम स्वराज पूरी तरह से लागू होना बाकी: राम बहादुर राय

Ashutosh Kumar Singh

‘वन हेल्थ के लिए आयुर्वेद’ थीम पर आयोजित होगा आयुर्वेद दिवस

admin

Leave a Comment