स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

डेंगू की वैक्सीन बनने में अभी और समय लगेगा : ICMR

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। भारत में डेंगू के मामलों को देखते हुए वैक्सीन बनाने की तैयारी चल रही है। इसके बाजार में उतरने में और समय लग सकता है। ICMR के महानिदेशक डॉ. राजीव बहल ने बताया कि टीके को लेकर टेस्टिंग अभी तक पूरी नहीं हुई है। उन्होंने आगे कहा कि हम कंपनी की तरफ से प्रोडक्ट बनाने का इंतजार कर रहे हैं। इसे 3 महीने पहले नहीं बनाया जा सकता था। इसलिए इसके तीसरे फेज का ट्रायल अगस्त महीने में किया जाना चाहिए। वे राष्ट्रीय डेंगू दिवस मनाने के लिए  आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रहे थे।

थर्ड फेज का परीक्षण 3-4 माह में

मालूम हो कि बीते सालों में डेंगू के मामलों में वृद्धि देखी गई है। जनवरी से अक्टूबर 2022 के बीच ही 1 लाख से ऊपर मामले दर्ज किए गए हैं। डॉ. बहल के मुताबिक ICMR के सहयोग से पैनेसिया बायोटेक की ओर से विकसित डेंगू टीके के तीसरे चरण का परीक्षण अगस्त या सितंबर में शुरू होने की संभावना है। इसके अलावा एक और डेंगू टीके के लिए पहले एवं दूसरे चरण के बाल चिकित्सा परीक्षण चल रहे हैं तथा इसके लिए शीर्ष स्वास्थ्य अनुसंधान निकाय ने सीरम इंस्टीट्यूट के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।

किशोरों पर परीक्षण बाकी

ICMR के महामारी विज्ञान और संचारी रोग विभाग की प्रमुख डॉ. निवेदिता गुप्ता ने कहा कि पैनेसिया बायोटेक ने भारत में स्वस्थ वयस्कों पर पहले एवं दूसरे चरण के परीक्षण पूरे कर लिए हैं तथा टीके की सुरक्षा स्थापित हो गई है। डॉ. गुप्ता ने कहा-सभी कागजी कार्रवाई की जा चुकी है और भारत के औषधि महानियंत्रक (DCGI) से तीसरे चरण के नियंत्रित परीक्षण के लिए अनुमोदन जनवरी में प्राप्त कर लिया गया है। यह परीक्षण 20 स्थानों पर 18-80 वर्ष की आयु के 10,335 स्वस्थ लोगों पर किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पैनासिया बायोटेक कंपनी टीका उत्पादन बढ़ाने की कोशिश कर रही है और तीसरे चरण का परीक्षण अगस्त या सितंबर में शुरू होने की संभावना है।

Related posts

आयुर्वेद ही है कोविड-19 का समाधान

रवि शंकर

MTP दवाएं दे रहे हैं 'डॉक्टर साहब'!

Ashutosh Kumar Singh

कफ सिरप निर्यात के लिए सरकार की सख्ती, गाइडलाइन जारी

admin

Leave a Comment