स्वस्थ भारत मीडिया
फ्रंट लाइन लेख / Front Line Article

आयुष्मान भवः योजना की शुरुआत करेगी सरकार

कुणाल मिश्रा

नयी दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा आयुष्मान भवः नामक कार्यक्रम की शुरुआत करने की घोषणा की गई है। इस कार्यक्रम के तहत लाभार्थियों तक सभी सरकारी स्वास्थ्य योजनाओं की सुविधाएं पहुंच सकेंगी। आधिकारिक सूत्रों की मानें तो आयुष्मान आपके द्वार 3.0, आयुष्मान सभा, आयुष्मान मेला और आयुष्मान ग्राम जैसी योजना इस कार्यक्रम के अंतर्गत बनाई जाएंगी। इससे प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) के साथ ही साथ स्वास्थ्य बीमा योजना कार्डों की प्रक्रिया में भी सुधार आ सकेगा। इससे इन कार्डों को बांटने और आयुष्मान भारत स्वास्थ्य खाता नंबर तैयार करने के प्रति भी लोगों में काफी जागरूकता बढ़ेगी।

बीमारियों के प्रति करेगा जागरूक

आयुष्मान भवः कार्यक्रम लोगों को न केवल बीमा योजनाओं से जुड़ी जानकारियां देगा, बल्कि स्वास्थ्य और कल्याण केंद्रों के जरिए Non communicable diseases और sickle cell disease के लिए स्क्रीनिंग सेवाओं के बारे में भी बताएगा। इससे लोगों को टीबी (Tuberculosis) जैसी बीमारियों के प्रति भी काफी कुछ जानने के अलांवा जागरुकता देखने को मिलेगी।

मरीजों की होगी देखभाल

सूत्रों की मानें तो आयुष्मान सभा, ग्राम स्वास्थ्य और स्वच्छता एवं पोषण समिति द्वारा यह एक ग्राम स्तरीय अभियान होगा। इस कार्यक्रम का उद्देश्य केवल यह सुनिश्चित करना होगा कि केंद्र और राज्य सरकार की सभी स्वास्थ्य योजनाओं का लाभ वांछित लाभार्थियों तक आसानी से पहुंच सके। ऐसे में मरीजों के लिए देख-भाल सेवाएं होने के साथ ही साथ टेलीकंसल्टेशन की सुविधा भी प्रदान की जाएगी। ऐसे में नियमित टीकाकरण, देखभाल, एनसीडी स्क्रीनिंग, मेंटल हेल्थ बुजुर्गों की देखभाल के साथ ही साथ अन्य लोगों के लिए भी किया जाएगा। इन्हें नियमित तौर पर आयोजित न करके हफ्ते मे एक बार आयोजित किया जा सकता है।

इससे पहले की थी आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत

आयुष्मान भवः योजना से पहले केंद्र सरकार ने आयुष्मान भारत योजना की भी शुरुआत की थी। इसके तहत सरकार देश के 50 करोड़ लोगों को सालाना 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा दे रही है। इस योजना को जनआरोग्य योजना भी कहा जाता है।

साभार

Related posts

हर तबके के लिए जरूरी किताब – विटामिन ज़िन्दगी

Ashutosh Kumar Singh

यह ‘सुशासन’ की मौत है !

पांच बैक्टीरिया…एक साल…भारत में हो गईं 6.8 लाख मौतें

admin

Leave a Comment