स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

गर्मी @ 52 डिग्री तक तो बुखार 107

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। अधिकांश राज्यों में प्रचंड गर्मी और लू ने लोगों का जीवन कठिन बना दिया है। दिल्ली में 52.3 तो बिहार में 48 डिग्री तक गर्मी पहुंच गयी। राजस्थान के कई जिलों में 50 के आसपास गर्मी रिकॉर्ड की जा रही है। 29 मई को यूपी के प्रयागराज का तापमान 49 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। यह स्वास्थ्य के लिए खतरे की घंटी है। खासकर बच्चों और बूढ़ों के लिए।

दिल्ली-एनसीआर का बुरा हाल

दिल्ली में हीट स्ट्रोक की वजह से अस्पतालों में भीड़ बढ़ने लगी है। दो दिन पहले यहां के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में एक मरीज ऐसा आया जो 107 डिग्री बुखार से तप रहा था। इस वजह से वह बार-बार बेहोश हो जा रहा था। रिपोर्ट के मुताबिक डॉक्टरों ने उसे आधे घंटे तक आइस टब में रखा। तब जाकर वह खतरे से बाहर निकल सका। हीट स्ट्रोक का एक और मरीज अब भी वेंटिलेटर पर है। राजधानी में हीट स्ट्रोक के मामले लगातार बढ़ रहे हैं।

अस्पतालों में बेड रिजर्व

वैसे दिल्ली सरकार ने सभी अस्पतालों में हीट स्ट्रोक के मरीजों के इलाज के लिए बेड सुरक्षित रखने को कहा है। दिल्ली के 26 अस्पतालों में दो बेड हीट स्ट्रोक के मरीजों के लिए रिजर्व है जबकि लोक नायक अस्पताल में पांच बेड। आरएमएल में पहले से ही हीट स्ट्रोक यूनिट चल रहा है।

बिहार में आफत ही आफत

बिहार में गर्मी और लू की स्थिति इससे भिन्न नहीं है। 29 मई को औरंगाबाद में 48 डिग्री तापमान रिकॉर्ड किया गया। बेगूसराय और शेखपुरा की खबर है कि स्कूल में ही कई बच्चे गर्मी से अचेत हो गये। उन्हें अस्पताल लाकर चिकित्सा दी गयी। भीषण गर्मी में बच्चों की हालत की खबर पर मुख्यमंत्री ने पहल करते हुए 8 जून तक के लिए स्कूलों को बंद करने का आदेष दे दिया।

Related posts

दरभंगा में एम्स निर्माण को लेकर सियासत गरम

admin

फार्मासिस्टों की हुई जीत…एफडीए ने माने अनशनकारियों की मांग…दूसरे मांग को लेकर आमरण अनशन अभी भी जारी

भारत का अंतरराष्ट्रीय विज्ञान फिल्म महोत्सव-2021 गोवा में शुरू

Ashutosh Kumar Singh

Leave a Comment