स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

इजरायल के डॉक्टरों ने किया ऐसा कमाल कि…

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। यूं ही डॉक्टरों को धरती का भगवान नहीं कहा जाता है। इजरायल के डॉक्टरों ने कुछ ऐसा ही किया है जो चमत्कार से कम नहीं है। दरअसल डॉक्टरों ने एक 12 साल के लड़के की बेहद असामान्य और जटिल सर्जरी की है जिसका सिर एक हादसे में उसकी गर्दन से अलग हो गया था। द टाइम्स ऑफ इजरायल की रिपोर्ट के अनुसार वह साइकिल चलाते हुए कार से टकरा गया जिसके बाद गर्दन से सिर अलग हो गये। इस सिर को डॉक्टरों ने फिर से जोड़ दिया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बच्चे का नाम सुलेमान हसन है। हादसे में उसकी खोपड़ी उसकी रीढ़ की हड्डी के शीर्ष भाग से अलग हो गई थी।

चमत्कार था बच्चे का बच जाना

मेडिकल टर्म में इस स्थिति को Bilateral Atlanto Occipital Joint Dislocation कहा जाता है। जानकारी है कि हादसे के बाद उसे हवाई मार्ग से हादासाह मेडिकल सेंटर ले जाया गया। डॉक्टरों के अनुसार उसका सिर उसकी गर्दन के बेस से लगभग पूरी तरह से अलग हो गया था। पूरे इलाज की देखरेख करने वाले आर्थाेपेडिक सर्जन डॉ. ओहद इनाव के मुताबिक इस सर्जरी में कई घंटे लगे और क्षतिग्रस्त हिस्से में नई प्लेटें और फिक्सेशन लगाने पड़े। उन्होंने कहा कि हम अपनी जानकारी और ऑपरेटिंग रूम में मौजूद आधुनिक तकनीक के चलते बच्चे को बचा पाए। सर्जनों का भी कहना है कि बच्चे का ठीक होना किसी चमत्कार से कम नहीं था क्योंकि उसके बचने की संभावना सिर्फ 50 प्रतिशत थी।

महीने भर बाद अस्पताल से डिस्चार्ज

यह सर्जरी पिछले महीने हुई थी लेकिन डॉक्टरों ने उसके स्वस्थ होने तक इसकी नतीजे सार्वजनिक नहीं किए। हसन को हाल ही में अस्पताल से छुट्टी दी गई है। अस्पताल ने कहा कि वे उसकी रिकवरी पर नजर रखेंगे। डॉ. इनाव ने बताया कि बच्चे में कोई न्यूरोलॉजिकल कमी या मोटर डिसफंक्शन नहीं है और वह सामान्य रूप से काम कर रहा है। इतनी लंबी प्रक्रिया के बाद वह बिना किसी सहारे के चल रहा है, यह कोई छोटी बात नहीं है।

Related posts

आयुष्मान भारत के सूचीबद्ध अस्पतालों का ग्रेडेशन होगा

admin

स्वस्थ सबल भारत अभियान को समर्थन देंगे उपराष्ट्रपति धनखड़

admin

कुपोषण पर वार! पोषण मानचित्र बना रही है सरकार

Ashutosh Kumar Singh

Leave a Comment