स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

अप्रैल से दिल्ली एम्स में कैश नहीं, डिजिटल भुगतान होगा

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। दिल्ली एम्स में एक अप्रैल से किसी भी प्रकार के शुल्क के लिए डिजिटल भुगतान करना होगा। पैसे से किसी भी प्रकार का लेनदेन नहीं होगा। एम्स ने पिछले साल से पायलट प्रोजेक्ट के तहत SBI के सहयोग एम्स स्मार्ट कार्ड की सुविधा शुरू की थी। इसकी मदद से विभिन्न जांच, नाश्ता, भोजन सहित सभी जगहों पर भुगतान हो रहा है। इसका पूरा रिकार्ड रहता है, जिसका ऑडिट किया जा सकता है।

एम्स निदेशक ने दिए निर्देश

रिपोर्ट के अनुसार नगद लेनदेन में होने वाली परेशानी के मद्देनजर निदेशक डॉ. एम. श्रीनिवास ने एम्स स्मार्ट कार्ड की व्यवस्था लागू की है। अब किसी भी काउंटर पर कोई नकद भुगतान स्वीकार नहीं किया जाएगा। एम्स स्मार्ट कार्ड टॉप अप काउंटर ओपीडी, अस्पताल और केंद्रों के भीतर कई स्थानों पर संचालित होंगे। यह 24 घंटे सातो दिन सेवा चलेगी। यूपीआई, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड आदि के माध्यम से इलेक्ट्रॉनिक भुगतान के अलावा, एम्स स्मार्ट कार्ड सभी जांचों और प्रक्रियाओं के लिए भुगतान का एकमात्र तरीका है।

ई-ऑफिस हुआ अनिवार्य

इसके साथ ही एम्स में सभी आधिकारिक संचार के लिए केवल ई ऑफिस का उपयोग होगा। निदेशक के मुताबिक एक अप्रैल से एम्स में प्रशासनिक प्रणालियों में पूर्ण पारदर्शिता बनाए रखने के लिए केवल ई-ऑफिस का इस्तेमाल होगा। आंतरिक संचार के लिए किसी भी भौतिक फाइल या कागजी पत्राचार पर विचार नहीं किया जाएगा। साथ ही एम्स में कोई भी भौतिक फाइल, नोटशीट आदि तत्काल प्रभाव से नहीं खरीदी जाएगी।

Related posts

हेल्थ, फिटनेस और मानसिक स्वास्थ्य पर फोकस रहा ‘मन की बात’ में

admin

अंगदान पर आधारित फिल्म ‘पलक’ 10 फरवरी को होगी रिलीज

admin

JN.1 से बचाव को लेकर बिहार में भी तैयारियां तेज

admin

Leave a Comment