स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार

बिलासपुर नसबंदी मामलाःफार्मासिस्ट करेंगे स्वास्थ्य मंत्री का घेराव!

AShutosh Kumar Singh for SBA

बिलासपुर में फार्मासिस्ट हुए उग्र, कर सकते हैं स्वास्थ्य मंत्री का घेराव
बिलासपुर में फार्मासिस्ट हुए उग्र, कर सकते हैं स्वास्थ्य मंत्री का घेराव

सिम्स, बिलासपुर में एक गैर फार्मासिस्ट द्वारा दवाइयां डिस्पेंस करने की खबर www.swasthbharat.in पर प्रकाशित होने के बाद, छत्तीसगढ़ के फार्मासिस्ट इस मसले को गंभीरता से ले रहे हैं और इसके खिलाफ अस्पताल प्रशासन को घेरने की तैयारी में जुटे हैं…स्वस्थ भारत अभियान की टीम अभी वहीं पर कैंप कर रही हैं।
अभी अभी प्रेस कांफ्रेंस के जरिये मीडिया से वहां के फार्मासिस्ट रू-ब-रू हुए हैं। सिम्स अस्पताल, बिलासपुर के कैंपस में ड्रग एंड कॉस्मेटिक एक्ट के नियमों को बिस्तार से बताते हुए  श्री उमेश खके, अध्यक्ष (यूनियन ऑफ़ रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट ) ने  कहा कि, यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि तमाम कोशिशों के बावजूद हमारी सरकारें फार्मासिस्टों की मांग नहीं मान रही हैं। उन्होंने स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग और केन्दीय मंत्री को लिखे गए तमाम पत्रों समेत फार्मेसी कौंसिल ऑफ़ इंडिया के द्वारा राज्य सरकारों को फार्मासिस्ट को फार्मेसी एक्ट के अनुपालन करने संबधी दिशा निर्देश की कॉपी को सार्वजनिक किया।  मीडियाकर्मी भी यह जानकर हैरान थे  कि जब गैरफार्मासिस्ट द्वारा दवा वितरण पर कानूनन रोक है, फिर सरकारी अस्पताल में कोई गैरफार्मासिस्ट कैसे दवा वितरित कर रहा है। छत्तीगढ़ के फार्मसिस्ट अपनी मांग को लेकर  ठीक अस्पताल के सामने डटे हुए हैं !
वहां से यह भी खबर आ रही हैं कि  केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे. पी. नड्डा अस्पताल में आने वाले है ! छत्तीगढिया फार्मासिस्ट उनके घेराव के तैयारी कर रहे हैं । गौरतलब है स्वस्थ भारत अभियान की टीम आरटीआई एक्टिविस्ट व फार्मा जानकार विनय कुमार भारती की अगुवाई में बिलासपुर में कैंप कर रही हैं। कल हमारी टीम ने ही स्टिंग ऑपरेशन कर यह खुलासा किया था कि रिम्स के रेडक्रास मेडिकल में दवा वितरण करने वाला लक्ष्मी नारायण मिश्रा राजनीतिक शास्त्र का जानकार है, न की फार्मासिस्ट। इस विडियों के जारी होने के बाद सोशल मीडिया पर सरकारी लापरवाही के खिलाफ तिखी प्रतिक्रियाएं आनी शुरू हो गयी हैं। उधर यह मामला राजनीतिक रंग लेता जा रहा है। कांग्रेस ने राज्य सरकार के मुख्यमंत्री से इस्तीफे की मांग की है। गौरतलब है कि नसबंदी में लापरवाही के कारण अभी तक 14 महिलाओं की मौत हो चुकी हैं।
स्वस्थ भारत अभियान के पेज से जुड़ने के लिए आप इस लिंक को क्लिक करे  ….स्वस्थ भारत अभियान

Related posts

पीएम मोदी को बिहार ने दिया लॉकडाउन बढ़ाने का सुझाव

पीएम मोदी ने कही थी बहुत जरूरी बात…

The microneedle-based system can take the pain away from vaccinations

swasthadmin

Leave a Comment