स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

सिर्फ 60 रुपये में केंद्र सरकार देगी मधुमेह की दवा

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। फर्मास्यूटिकल तथा मेडिकल डिवाइसेज ब्यूरो ऑफ इंडिया (PMBI) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रवि दधिच ने प्रधानमंत्री जनऔषधि परियोजना के अंतर्गत आज मधुमेह के लिए दवाओं का नया वैरिएंट सीटाग्लिप्टिन सभी के लिए किफायती मूल्यों पर विक्री के लिए लॉन्च किया। PMBI ने अपने सभी जनऔषधि केंद्रों में दवाओं के नए वैरिएंट सीटाग्लिप्टिन और इसके कम्बिनेशन को शामिल किया।

उत्पाद का नाम

तालिका के मुताबिक 10 के पैक के लिए अधिकतम मूल्य इस प्रकार होगी-
(1) सीटाग्लिप्टिन फॉस्फेट टैबलेट आईपी 50 एमजी-60 रुपये
(2) सीटाग्लिप्टिन फॉस्फेट टैबलेट आईपी 100 एमजी-100 रुपये
(3) सीटाग्लिप्टिन( + मेटफोर्मिन हाइड्रोक्लोराइड टैब 50 एमजी/500 एमजी-65 रुपये
(4) सीटाग्लिप्टिन + मेटफोर्मिन हाइड्रोक्लोराइड की गोलियां 50 एमजी /1000 एमजी-70 रुपये

बाजार से कीमत कम

टाइप-2 वाले व्यस्कों में ग्लाइसोमिक नियंत्रण में सुधार के लिए सीटाग्लिप्टिन को आहार और व्यायाम के सहायक के रूप में इंगित किया गया है। ये सभी वैरिएंट ब्रांडशुदा वैरिएंट की तुलना में 60 प्रतिशत से 70 प्रतिशत कम मूल्य पर उपलब्ध हैं क्योंकि ये अन्य मेडिकल स्टोर पर 162 रुपए से 258 रुपए की मूल्य सीमा में मिलती हैं।

केंद्रों पर 1600 से अधिक दवायें

प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना के अंतर्गत पूरे देश में 8700 से अधिक जनऔषधि केंद्र खोले गए हैं। ये केंद्र गुणवत्ता सम्पन्न जेनेरिक दवाइयां, सर्जिकल उपकरण, न्यूट्रास्यूटिकल तथा अन्य उत्पाद बेच रहे हैं। फिलहालं इन केंद्रों पर 1600 से अधिक दवाइयां तथा 250 सर्जिकल उपकरण उपलब्ध हैं जिनमें सुविधा सेनेटरी पैड भी शामिल है जो प्रति पैड 1 रुपए मूल्य पर बेचा जा रहा है।

Related posts

लचीली वैश्विक स्वास्थ्य सुरक्षा संरचना बने : मांडविया

admin

जागरूकता के बाद भी पर्याप्त अंगदान नहीं : NOTTO

admin

डरना जरूरी है, अपना स्वरूप बदलने लगा है कोविड-19

Ashutosh Kumar Singh

Leave a Comment