स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

पारंपरिक औषधियों पर भारत-आसियान सम्मेलन आयोजित

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। आयुष मंत्रालय ने आज दिल्ली में पारंपरिक औषधियों पर भारत और आसियान देषों का एक सम्मेलन आयोजित किया। लगभग एक दशक बाद आयोजित सम्मेलन में सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज के लिए लचीली स्वास्थ्य देखभाल प्रणालियों को मजबूत करने का वादा किया गया। सम्मेलन में केंद्रीय आयुष मंत्री सर्बानंद सोनोवाल और आयुष राज्य मंत्री डॉ. मुंजपारा महेंद्रभाई कालूभाई, आयुष सचिव वैद्य राजेश कोटेचा और आसियान देशों के 75 प्रतिनिधि भी उपस्थित थे।

सतत विकास लक्ष्यों के लिए बेहतर मंच

सर्बानंद सोनोवाल ने कहा कि भारत और आसियान देशों के बीच पारंपरिक चिकित्सा पर सम्मेलन सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने तथा पारंपरिक चिकित्सा प्रणालियों को आगे बढ़ाने के तौर-तरीकों पर रणनीति बनाने के लिए पारंपरिक चिकित्सा प्रणालियों के विभिन्न आयामों पर विचार-विमर्श करने का एक मंच प्रदान करता है। उन्होंने कहा कि पारंपरिक चिकित्सा प्रणालियों में एक स्वास्थ्य के लक्ष्य को प्राप्त करने में प्रमुख भूमिका निभाने की काफी क्षमता है।

वर्चुअली शामिल रहे आसियान महासचिव

आसियान के महासचिव डॉ. काओ किम होर्न ने वीडियो संदेश के माध्यम से भारत और आसियान के बीच साझा सांस्कृतिक और पारंपरिक औषधीय व्यवहारों की भावनाओं को दोहराया। महासचिव ने विभिन्न पहलुओं को शामिल करते हुए आसियान और भारत के बीच तालमेल को प्रतिबिंबित करने वाले तीन प्रमुख बिंदुओं पर प्रकाश डाला, जिसमें पारंपरिक और पूरक दवाओं के माध्यम से सार्वजनिक स्वास्थ्य पर सहयोग शामिल है।

मोटे अनाज के उपयोग पर बल

डॉ. मुंजपारा महेंद्रभाई कालूभाई ने पारंपरिक चिकित्सा पर भारत और आसियान की साझा जड़ों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि भारत और आसियान के पास समृद्ध पारंपरिक उपचार प्रणालियां हैं जो आयुर्वेद या आयुर्वेद आधारित हर्बल उपचार, समग्र दृष्टिकोण और सांस्कृतिक प्रथाओं के संदर्भ में समानताएं साझा करती हैं। उन्होंने आयुर्वेद में बताई गई मोटे अनाजों की अच्छाइयों और दैनिक जीवन में इसके उपयोग से होने वाले लाभों पर बल देते हुए कहा कि मोटा अनाज शरीर को जैव-उपलब्ध रूप में आवश्यक खनिज, फाइबर और अन्य तत्व प्रदान करने में प्रमुख भूमिका निभाता है।

Related posts

आयुष को मुख्य धारा में लायेगी स्वास्थ्य नीति : सोनोवाल

admin

स्वास्थ्य के क्षेत्र में हमारे साथ बहुत प्रयोग एवं खिलवाड़ होते रहे हैं- राम बहादुर राय

Ashutosh Kumar Singh

मीडिया चौपाल 2022 के नौवें संस्करण का चंडीगढ़ में शुभारंभ

admin

Leave a Comment