स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

जागरूकता के बाद भी पर्याप्त अंगदान नहीं : NOTTO

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। जागरूकता के अभाव में आज भी अंगदान के लिए पर्याप्त डोनर नहीं मिल पाते। NOTTO के अनुसार उसके पास अंगदान के लिए आंखों के लिए 96426, किडनी के लिए 92725, लीवर के लिए 88217 और दिल के लिए 88007 डोनर रजिस्टर्ड हैं। जबकि मांग की तुलना में आपूर्ति बहुत ही कम है। कुल मिलाकर 129615 डोनर उपलब्ध हैं। डोनर में राजस्थान पहले, महाराष्ट्र दूसरे और एमपी तीसरे स्थान पर है। पीएम नरेंद्र मोदी ने भी पिछले मन की बात में कहा था कि अंगदान से कुछ लोग जीवन के अंत के बाद भी समाज जीवन के प्रति अपने दायित्वों को निभाते हैं।

मेडिकल धोखाधड़ी में भारतीय को सजा

अमेरिका में एक भारतीय नागरिक योगेश के पंचोली को 2.8 मिलियन डॉलर की हेल्थ केयर फंड में धोखाधड़ी के लिए नौ साल की कैद की सजा सुनाई गई है। वह घरेलू स्वास्थ्य कंपनी श्रृंग होम केयर इंक (श्रृंग) के मालिक थे। अदालती दस्तावेजों के अनुसार बिलिंग मेडिकेयर से बाहर किए जाने के बावजूद पंचोली ने दूसरों के नाम, हस्ताक्षर और व्यक्तिगत पहचान संबंधी जानकारी का उपयोग करके धोखाधड़ी को अंजाम दिया।

सतर्क रहें प्लास्टिक से

सुविधाजनक होने के कारण लोग अब किचन से लेकर फ्रीज तक में प्लास्टिक के डब्बों का इस्तेमाल करते हैं। पानी की बोतल तक। ऑनलाइन फूड ऑर्डर करने पर भी प्लास्टिक के कंटेनरों में गर्म खाना पैक होकर आता है। लेकिन प्लास्टिक के इन कंटेनरों की खराब क्वालिटी धीरे-धीरे जहर बनकर खून में घुल रहा है। आंखों से न दिखने वाले इसके कण किडनी और लिवर को खराब कर रहे हैं, जो कैंसर की वजह बन रहा है।

Related posts

TREATMENT AND MANAGEMENT OF COVID-19: HOMOEOPATHIC PERSPECTIVE

Ashutosh Kumar Singh

राहत : केमोथेरेपी की प्रभावी दवा विकसित

admin

क्वांटम-प्रौद्योगिकी समर्थित ग्रीन हाइड्रोजन उत्पादन का हुआ उद्घाटन

admin

Leave a Comment