स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

अब रोज बनेंगे 10 लाख आयुष्मान कार्ड : मनसुख मांडविया

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने कहा कि अब तक 19 करोड़ से अधिक आयुष्मान कार्ड बनाए गए हैं और 24 करोड़ से अधिक आभ ABHA नंबरों का सृजन किया गया है। यह स्वास्थ्य रिकॉर्ड के डिजिटलीकरण में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है। उन्होंने घोषणा की कि अब प्रतिदिन 10 लाख आयुष्मान कार्ड बनाये जायेंगे। अब तक प्रतिदिन 4.5 लाख कार्ड बन रहे थे।

आरोग्य मंथन 2022 का आयोजन

वे केन्द्रीय रेल, संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव, केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री डॉ. भारती प्रवीण पवार, नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ. विनोद पॉल, उत्तराखंड के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के सीईओ डॉ. आर एस शर्मा की उपस्थिति में दो दिवसीय आरोग्य मंथन 2022 कार्यक्रम का उद्घाटन कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आरोग्य मंथन आयोजन आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (AB PM-JAY) के 4 साल और आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन (ABDM) के 1 साल पूरे होने का प्रतीक है।

अंतिम जन तक पहुंचे स्वास्थ्य सेवा

स्वास्थ्य मंत्री ने सबसे बड़ी वैश्विक सार्वजनिक स्वास्थ्य बीमा योजना में PM-JAY लाभार्थियों को सबसे महत्वपूर्ण हितधारक के रूप में रेखांकित करते हुए कहा कि सरकार का ध्यान स्वास्थ्य सेवाओं को प्रौद्योगिकी द्वारा सक्षम डिलीवरी श्रृंखला के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने पर केन्द्रित है। डॉ. मांडविया ने कहा कि पीएम-जेएवाई देश में स्वास्थ्य सेवाओं की पहुंच के मामले में समृद्ध और वंचित वर्गों के बीच की खाई को पाटने में सफल रहा है।

पीएम का विजन साकार

अश्विनी वैष्णव ने कहा कि सूचना प्रौद्योगिकी और स्वास्थ्य की परस्पर क्रिया से देश में स्वास्थ्य सेवा को सुलभ बनाने के प्रधानमंत्री के विजन को साकार किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि अगले कुछ वर्षों में देश के प्रत्येक गांव को हाई स्पीड ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ दिया जाएगा, जिससे सभी तक कनेक्टिविटी और निरंतर स्वास्थ्य पहुंच सुनिश्चित होगी। डॉ. भारती प्रवीण पवार ने कहा कि सरकार अपने नागरिकों को सर्वाेत्तम स्वास्थ्य सेवाएं सुनिश्चित करने के लिए समग्र रूप से काम कर रही है। नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ. वी के पॉल ने 2030 तक सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज प्राप्त करने के लिए मजबूत स्वास्थ्य प्रणाली के महत्व और आवश्यकता को रेखांकित किया।

सबके लिए सुलभ हेल्थ सिस्टम

NHA के CEO डॉ. आर एस शर्मा ने स्वास्थ्य सेवा को सभी के लिए सुलभ और किफायती बनाने की यात्रा में सक्रिय भागीदार होने के लिए केन्द्र और राज्य स्तर पर सभी हितधारकों को बधाई दी। उन्होंने सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए पहुंच, गुणवत्ता और वित्तीय सुरक्षा के महत्व पर प्रकाश डाला। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने स्वास्थ्य दावा विनिमय (HCX), राष्ट्रीय ई-रूपी पोर्टल और डिजिटलीकरण के लिए रूपरेखा सहित कई नई पहल की शुरुआत की। एनएचए, कॉफी टेबल बुक और बेस्ट प्रैक्टिस बुकलेट के लिए वार्षिक रिपोर्ट के डिजिटल संस्करण का भी अनावरण किया गया। डॉ. मांडविया ने ‘‘डिजिटल हेल्थ एक्सपो’’ का उद्घाटन किया।

Related posts

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) की 11वीं सामान्य समीक्षा मिशन (सीआरएम) रिपोर्ट जारी, अश्वनी कुमार चौबे ने इससे जुड़े हितधारकों को बधाई दी 

भारत पारम्परिक चिकित्सा पद्धति को मजबूत बनाने के लिए प्रतिबद्ध : सोनोवाल

admin

शिक्षा के साथ संस्कृति, संस्कार और धर्म जुड़ा है : कैलाश सत्यार्थी

admin

Leave a Comment