स्वस्थ भारत मीडिया
समाचार / News

अमृत महोत्सव पर शेखर अस्तित्व के ‘हर घर तिरंगा’ गीत की धूम

नयी दिल्ली (स्वस्थ भारत मीडिया)। आज़ादी के अमृत महोत्सव के पावन अवसर पर मां भारती को समर्पित ‘हर घर तिरंगा’ गीत के रचनाकार हैं श्री शेखर अस्तित्व जिन्होंने अब तक 45 से ज्यादा मेगा धारावाहिकों, एक दर्जन से अधिक फिल्मों, और सैकड़ों एल्बम्स में 3000 से ज्यादा गीतों को शब्द दिए हैं। मुंबई मायानगरी में अपने ढाई दशक के कार्यकाल में रामानंद सागर, रविंद्र जैन, राजकुमार बड़जात्या, सतीश कौशिक, सूरज बड़जात्या, राजकुमार हिरानी, पूरी जगन्नाथ जैसे दिग्गजों का सानिध्य पाया है।

सबकी जुबान पर चढ़ा गीत

आज़ादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर इनके द्वारा लिखे गए गीत ‘हर घर तिरंगा’ को इन्होंने अपने यूट्यूब चैनल पर लोकार्पित किया है। इस गीत को संगीतबद्ध करके स्वर दिया है उदीयमान गायक यश वर्धन ने और इसका संगीत संयोजन किया है सुपरिचित अरेंजर बोर्डेन भांगा ने। इस गीत के वीडियो का निर्देशन युवा निर्देशिका केतकी और शेखर अस्तित्व ने मिलकर किया है। अत्यंत कम समय में इस गीत ने लोकप्रियता के जिस शिखर को छुआ है, वह दुर्लभ है। आज यह गीत देश के हर बच्चे, युवा और बुजुर्ग, सबकी जुबान पर चढ़ गया है।

कई पुरस्कारों से सम्मानित

अपने अविस्मरणीय गीतों के लिए इन्हें साहित्यिक और सिनेमा क्षेत्र में अनेक बार सम्मानित किया जा चुका है। धारावाहिकों और फिल्मों के श्रेष्ठतम ITA और फिल्म फेयर जैसे पुरस्कारों के लिए नामित किया जा चुका है। साथ ही फिल्म ‘संजू’ के अत्यंत लोकप्रिय गीत ‘कर हर मैदान फतेह’ के लिए सर्वश्रेष्ठ गीतकार के रूप में सुप्रसिद्ध इंडीवुड एकेडमी अवार्ड से सम्मानित भी किया जा चुका है।

बेहतर टीमवर्क से सफलता

इस गीत के निर्माण से जुड़े टीम के सभी सदस्यों के परिश्रम के फलस्वरूप ही यह सफलता हासिल हुई है। हम इस गीत के निर्माण से संबंधित सभी सदस्यों का हार्दिक अभिनंदन करते हुए उनके सफल और उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हैं। शेखर अस्तित्व स्वस्थ भारत के राष्ट्रीय कार्यकारिणी भी हैं। आप भी सुनें और अपनों को सुनाएं। आएं, आज़ादी का पर्व मनाएं।

https//youtu.be/o2QWc3NOgd4

Related posts

गढ़चिरौली में मासिक धर्म संबंधी स्वच्छता प्रबंधन में नई पहल

admin

स्वास्थ्य सेवा के लिए व्यापक और एकीकृत पहुंच की जरूरत : धनखड़

admin

भारत के पास अनुसंधान क्षेत्र में दुनिया का टॉप राष्ट्र बनने की क्षमता

admin

Leave a Comment