स्वस्थ भारत मीडिया
कोविड-19 / COVID-19 नीचे की कहानी / BOTTOM STORY रोग / Disease समाचार / News

जानिए कोरोना को भगाने का 5टी फार्मूला

मुख्यमंत्री  अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सभी चीजों को ट्रैक करना सबसे जरूरी है। सभी प्लान को ट्रैक करने की जिम्मेदारी मेरी है। अगर हम कोरोना से तीन कदम आगे रहेंगे, तभी हम इसको हरा पाएंगे। उन्होंने कहा कि इस ट्रैकिंग एवं मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी मैं खुद निर्वहन कर रहा हूं।

गायत्री सक्सेना
 
दिल्ली
के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना को दिल्ली में रोकने के लिए ‘ 5टी’ प्लान बनाया है। इसके लिए उन्होंने कई विशेषज्ञों तथा डॉक्टरों का परामर्श भी लिया। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना के अब तक 525 लोग कोरोना पॉजिटिव हैं। ऐसी स्थिति में कोरोना को नियंत्रित करने के लिए ‘5टी’ प्लान दिल्ली में चलाना आवश्यक हो जाता है। मुख्यमंत्री ने 5टी का मतलब बताते हुए कहा  ‘5टी’ में पहला टी है टेस्टिंग, दूसरा है ट्रेसिंग, तीसरा है ट्रीटमेंट, चौथा है टीम वर्क और पांचवा है ट्रैकिंग और मॉनीटरिंग। आइए आपकों सबके मायने विस्तार से बताती हूं।

Must Read कोविड-19 के विरुद्ध पूर्व सैनिकों ने खोला मोर्चा

टेस्टिंग
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम बड़े लेवल पर टेस्टिंग करेंगे। साउथ कोरिया की तरह हम बहुत बड़े स्तर पर टेस्टिंग करने जा रहे हैं। पहले टेस्टिंग किट की समस्या थी। वह भी अब सुधर गई  है। हमने 50 हजार लोगों के टेस्ट के लिए किट का ऑर्डर किया है। एक लाख लोगों के रैपिड टेस्ट के लिए किट का ऑर्डर कर दिया है। शुक्रवार से रैपिड टेस्ट किट आने लगेगा। कोरोना के हॉटस्पॉट एरिया में रैपिड टेस्ट किया जाएगा ।

Must Read कोविड-19 से लड़ने में सीएसआईआर के साथ खड़ा है उद्योग जगत

ट्रेसिंग
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम कोरोना पॉजिटिव मरीजों के संपर्क में आए लोगों को ट्रेस कर रहे हैं। सभी लोगों को सेल्फ क्वारंटाइन के लिए भेजा जा रहा है। ट्रेसिंग में हम पुलिस की मदद ले रहे हैं। पुलिस की मदद से हम ऐसे लोगों को ट्रेस करेंगे, जो होम क्वारंटाइन हैं। पुलिस को हमने अब तक 27702 लोगों के फोन नंबर दिए हैं। उनका जीपीएस लोकेशन चेक किया जाता है। इसके साथ ही मरकज से निकलने वाले 2000 लोगों के फोन नंबर भी पुलिस को दिए जाएंगे। उनके लोकेशन के आधार पर इलाकों को सील किया जाएगा ।

Must Read कोरोना से कैसे बच गया भूटान!

ट्रीटमेंट
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अभी तक दिल्ली में कोरोना के कुल 525 केस आए हैं। हमने अभी तक दिल्ली में करीब 3 हजार बेड की क्षमता तैयार कर ली है। एलएनजेपी ढ़ेह हजार बेड, जीबी पंत 500 बेड, राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में 450 बेड, के साथ इन तीनों  अस्पतालों  को कोरोना हॉस्पिटल घोषित किया गया है। इसके साथ ही करीब 400 बेड प्राइवेट हॉस्पिटल में आरक्षित किए गए हैं। जिसमे मैक्स अस्पताल का ई-ब्लाक में 318 बेड, अपोलो में 40 बेड, गंगाराम अस्पताल में 42 बेड, सरकारी और प्राईवेट दोनों अस्पताल मिलाकर 2950 से लगभग 3 हजार बेड की क्षमता तैयार कराई जा चुकी है। कोरोना के जैसे-जैसे केस बढ़ते जाएंगे, हम और भी हॉस्पिटल को कोरोना हॉस्पिटल में तब्दील कर देंगे। इसके साथ ही होटल और धर्मशाला में भी टेकओवर किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हमने 30 हजार एक्टिव कोरोना मरीजों के लिए बेड की व्यवस्था की प्लानिंग कर रखी है।

Must Read कोविड-19 के बारे में भ्रामक सूचना के ‘वायरस’ को तत्काल रोकना आवश्यक : उपराष्ट्रपति

टीम वर्क
मुख्यमंत्री  अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना को अकेले ठीक नहीं किया जा सकता है । आज सारी सरकारें एक टीम की तरह काम कर रही हैं। सभी राज्य सरकारों को मिलकर भी काम करना होगा। सभी सरकारों और विभागों को एकजुट होकर एक टीम की तरह काम करना होगा। सभी राज्य सरकारों को एक-दूसरे से सीखना भी है।इस टीम का सबसे अहम हिस्सा डॉक्टर और नर्स हैं। हमें इनका सम्मान करना चाहिए इनके सहयोग के लिए  सबको लॉकडाउन का सख्त पालन करना चाहिए।

यह भी पढ़ें… आइए भारतीयता’ का दीप हम भी जलाएं

  1. ट्रैकिंग और मॉनीटरिंग

मुख्यमंत्री  अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सभी चीजों को ट्रैक करना सबसे जरूरी है। सभी प्लान को ट्रैक करने की जिम्मेदारी मेरी है। अगर हम कोरोना से तीन कदम आगे रहेंगे, तभी हम इसको हरा पाएंगे। उन्होंने कहा कि इस ट्रैकिंग एवं मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी मैं खुद निर्वहन कर रहा हूं।

इसे भी पढ़ें… डरने की नहीं, कोरोना से लड़ने की है जरूरत

 
 
 

Related posts

68वें विश्व स्वास्थ्य सभा में स्वास्थ्य मंत्री ने क्या कहा, पढिए भाषण का मूल अंश

अफ्रीका में हुई बड़े आकार वाली मकड़ियों की उत्पत्ति

admin

समुद्री कूड़े के खिलाफ स्वच्छ सागर, सुरक्षित सागर अभियान

admin

Leave a Comment